Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

कपिल देव की विराट कोहली को सलाह, ज्यादा प्रैक्टिस किया करें, उम्र हो गई है

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम को न्यूजीलैंड दौरे पर शर्मनाक हार के साथ विदाई लेनी पड़ी। पहले वनडे और फिर टेस्ट सीरीज में भारत का न्यूजीलैंड की टीम ने क्लीन स्वीप किया। इन दोनों ही सीरीज में भारतीय कप्तान विराट कोहली रन बनाने में नाकाम रहे। कोहली के प्रदर्शन पर पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव ने उनको ज्यादा प्रैक्टिस करने की सलाह दी है।

भारत ने न्यूजीलैंड दौरे की शानदार शुरुआत करते हुए टी20 सीरीज में 5-0 से जीत हासिल की। न्यूजीलैंड का क्लीन स्वीप करने के बाद भारत को अगली दो सीरीज में ऐसी ही हार का सामना करना पड़ा। इस पूरे दौरे पर कप्तान कोहली महज 218 रन ही बना पाए जो उनके करियर का अब तक का दूसरा सबसे खराब प्रदर्शन है। दो टेस्ट मैचों की चार पारियों में कोहली महज 38 रन ही बना पाए। पूर्व कप्तान कपिल ने उनको उम्र के साथ ज्यादा प्रैक्टिस करने की सलाह दी है।

कपिल देव ने न्यूज चैनल एबीपी पर कहा, “जब आप एक निश्चित उम्र तक पहुंच जाते हैं और जब 30 की उम्र को पार कर लेते है तो इसका असर आपकी देखने की क्षमता पर पड़ता है। इन स्विंग जो उनकी ताकत हुआ करती थी जिसे वो चार रन के लिए फ्लिक किया करते थे उसी पर वो दो बार आउट हो गए। मुझे लगता है कि उनको अपनी आई साइट को थोड़ा सा समायोजित करने की जरूरत है।”

ताकत जब कमजोरी बन जाए तो प्रैक्टिस ज्यादा करें

“जब बड़े खिलाड़ी अंदर आने वाली गेंद पर बोल्ड और LBW होने लगते हैं तो आपको उनको कहना होता है कि थोड़ा ज्यादा प्रैक्टिस करना शुरू कर दीजिए। इससे पता चलता है कि आपकी आंखे आपके रिफ्लेक्सेस अब धीमे पड़ गए हैं। इसका मतलब यह हुआ की अब आपकी ताकत ही आपकी कमजोरी बन गई है।”

कपिल ने आगे कहा, “18 से 24 साल की उम्र तक आईसाइट सबसे बेहतर होती है लेकिन उसके बाद यह इस बात पर निर्भर करता है कि इसके उपर कैसे काम करते हैं।”