Logo
ब्रेकिंग
भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी माँ की ममता से दूर जेल में बंद पूर्व विधायक मामता देवी का दूधमुहा बच्चा बीमारी की गिरफ्त में । माता वैष्णों देवी मंदिर के 32वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 26 को सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर याद किए गए नेताजी, रामगढ़ से जुड़ा है नेताजी के कई लम्हो का नाता । स्वीप के तहत जिला प्रशासन एकादश एवं दिव्यांग एकादश के बीच हुआ क्रिकेट मैच का आयोजन । नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती एवं पराक्रम दिवस के अवसर पर माल्यार्पण कार्यक्रम का हुआ आयोजन । रामप्रसाद चंद्रभान सरस्वती विद्या मंदिर में संस्कृति ज्ञान परीक्षा का आयोजन। मेदांता रांची द्वारा अधिवक्ता संघ परिसर में लगाया गया निशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर । रामगढ़ विधानसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस के पदाधिकारियों की हुई बैठक ।

आंगनबाड़ी की नौकरी के लिए इज्जत का सौदा, ससुर के सामने बहू से दुष्कर्म

सरैयाहाट (दुमका)। झारखंड के दुमका जिले में सरैयाहाट थाना क्षेत्र के एक गांव की अठारह वर्षीया नवविवाहिता के साथ ससुर की मौजूदगी में गांव के एक युवक ने दुष्कर्म किया। इस दौरान ससुर बहू की अस्मत बचाने की बजाए अपने साथी की मदद में लगा रहा। शनिवार को महिला की शिकायत पर पुलिस ने दुष्कर्म में सहयोग करने के आरोपित ससुर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं दुष्कर्मी आरोपित की तलाश में छापेमारी जारी है।

घटना के संबंध में पीडि़ता ने बताया कि गुरुवार की रात नौ बजे वह सास के साथ नये घर में सोई हुई थी। इस दौरान गांव के ही हीरवा अंसारी ने सास को फोन कर कहा कि बहू को पुराने घर भेज दो। आंगनबाड़ी सेविका में बहाली के लिए कुछ जानकारी लेनी है। सास ने बहू को एक बच्चे के साथ पुराना घर भेज दिया। जहां पहले ही उसका ससुर भी मौजूद था।

आरोपित युवक ने बहाली के नाम पर नवविवाहिता से कई सवाल किए। इसके बाद युवक ने ससुर को इशारा करते हुए दरवाजा बंद करने को कहा। इसके बाद ससुर अंदर से दरवाजा बंद कर दिया। आरोपित युवक ने ससुर की मदद से महिला के साथ दुष्कर्म किया। महिला चिखती रही लेकिन उसे बचाने की बजाए ससुर अपने दोस्त की मदद करता रहा।

घटना के बाद दोनों ने बहू को धमकी दी कि अगर उसने किसी को कुछ बताया तो उसका सेविका पद पर चयन नहीं होगा। घर पहुंची तो बदनामी का हवाला देते हुए सास ने भी खामोश रहने की सलाह दी, परंतु पीडि़ता स्वयं थाना पहुंची और पुलिस को घटना की जानकारी दी।

nanhe kadam hide