Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

कपिल देव बोले- इन खिलाड़ियों को नहीं खेलना चाहिए IPL, देश का करते हैं प्रतिनिधित्व

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम को साल 1983 में वर्ल्ड कप जिताने वाले महान कप्तान कपिल देव ने कहा है कि कुछ खिलाड़ियों को आइपीएल से आराम भी ले लेना चाहिए। कपिल देव ने ऐसा इसलिए कहा है कि क्योंकि भारतीय टीम इस समय लगातार और सबसे ज्यादा क्रिकेट खेल रही है। ऐसे में इंसान को थकान होती है। इसलिए देश की टीम का प्रतिनिधित्व करने के बारे में सोचना चाहिए और आइपीएल छोड़ देना चाहिए।

गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान कपिल देव कहा कि वे खिलाड़ी जो नियमित तौर पर भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खेल रहे हैं और अगर उन्हें लगता है कि उनके लिए इंटरनेशनल कैलेंडर बहुत बिजी है तो वे इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) को छोड़ सकते हैं। उन्होंने कहा, “अगर किसी खिलाड़ी को लगता है कि मैं थक गया हूं तो आइपीएल मत खेलो। आप आइपीएल में अपने देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर रहे हैं। अगप आप थक गए हैं तो आप आइपीएल के कुछ मैचों से नहीं, बल्कि हमेशा ब्रेक ले सकते हैं। जब आप अपने देश का प्रतिनिधित्व कर रहे होते हैं तो फिर आपके अंदर इस तरह की अलग भावना होनी चाहिए।”

देश के लिए खेलना बड़ी बात

पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर का मानना है कि जब कोई खिलाड़ी अपने देश के लिए क्रिकेट खेल रहा है तो उसे अपना सर्वश्रेष्ठ देने की जरूरत होती है। इस कारण से इस चीज से इससे समझौता नहीं करना चाहिए, क्योंकि वे फ्रेंचाइजी क्रिकेट में खेलने में बहुत अधिक ऊर्जा लगाते हैं। हालांकि, कपिल देव ने इस बात को स्वीकार नहीं किया है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे और टेस्ट सीरीज में भारतीय खिलाड़ी थके हुए नज़र आए।

कपिल देव ने अपने दिनों को याद करते हुए कहा, “मुझे नहीं पता कि टीवी देखना और फिर बयान देना मेरे लिए बहुत मुश्किल और अनुचित है। मुझे भी क्रिकेट खेलने के दौरान थकान होती थी। जब आप एक सीरीज में खेलते रहते हैं और रन बना रहे हैं या फिर विकेट ले रहे हैं तो उस समय थकान महसूस नहीं करते हैं, लेकिन जब आप ऐसा करते नहीं कर पाते हैं तो आपको थकान महसूस होती है। यह एक बहुत ही भावनात्मक चीज है। आपका मन और आपका दिमाग उसी तरह काम करता है और आपका बेस्ट निकलकर सामने आता है।”