Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

जहीर खान ने इस खिलाड़ी को बताया, इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज का ‘साइलेंट हीरो’

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच खेली गई पांच मैचों की टी20 सीरीज में एक भारतीय खिलाड़ी ने अपने प्रदर्शन से परिपक्वता दिखाई। तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने जिम्मेदारी से मैच में गेंदबाजी की और आखिरी दोनों ही मैच में उनकी गेंदबाजी अहम साबित हुई। पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज जहीर खान ने शार्दुल को इस सीरीज का साइलेंट हीरो करार दिया है। उनका मानना है इस खिलाड़ी का प्रदर्शन टॉप खिलाड़ियों से जरा भी कम नहीं रहा।

एक क्रिकेट वेबसाइट से बात करते हुए जहीर ने कहा, शार्दुल ठाकुर, अगर आपने ध्यान दिया तो इस भारतीय क्रिकेट टीम में काफी सारे बड़े नाम हैं, कई चमकदार नाम। इन सब के बीच ये एक खिलाड़ी है जो अपना काम चुपचाप से कर रहा है। वह इस सीरीज के शांत हीरो हैं। उनके आंकड़े उतने ही अच्छे हैं जितने टीम के टॉप खिलाड़ियों के।

आखिरी दोनों ही टी20 मुकाबले में शार्दुल ने अपनी गेंदबाजी से मैच का रुख बदला। चौथे मैच में एक ही ओवर में लगातार दो विकेट हासिल किए जिसके बाद इंग्लैंड की टीम एकदम से मैच में पिछड़ गई। निर्णायक मुकाबले में भी शार्दुल ने कुछ ऐसा ही प्रदर्शन किया। अपने दूसरे स्पेल में उन्होंने दो विकेट हासिल किए और मैच का रुख बदल गया।

जब से ऑस्ट्रेलिया की सीरीज हुई है, मैंने इस खिलाड़ी सोच और शारीरिक भाषा में बहुत बड़ा बदलाव देखा है। यहां तक कि अगर आप उनको फील्ड में ध्यान से देखें तो उनका आत्मविश्वास छलकता है। जब आप काफी लंबे वक्त से इंटरनेशनल क्रिकेट खेलते हैं तो खिलाड़ियों को आमतौर पर खेल समझने में भी वक्त लग जाता है, इससे बाद करियर लंबा होता है। लेकिन ठाकुर पहले से ही उस स्थिति में हैं जहां उनको पता है कि उनके लिए क्या सर्वश्रेष्ठ है। उनको क्या करना है और क्या करने से बचना है।