Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

विराट कोहली ने पहले टी20 मैच में मिली हार की वजह बताई और इस डिपार्टमेंट को न्यूनतम स्तर का करार दिया

नई दिल्ली। विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टी20 सीरीज में हार के साथ शुरुआत करनी पड़ी। पहले ही मैच में इयोन मोर्गन की कप्तानी वाली इंग्लिश टीम ने भारत को 8 विकेट से धो डाला। इंग्लैंड की टीम ने घातक गेंदबाजी करते हुए पहले भारत को 124 रन पर रोक दिया और फिर आसानी से 2 विकेट पर जीत के लिए मिले 125 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया। इस मैच में ना तो भारतीय गेंदबाजी और ना ही भारतीय बल्लेबाजी ज्यादा प्रभावी दिखी।

अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में इंग्लैंड के खिलाफ पहले टी20 मुकाबले में मिली हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि, हमें पिच के बारे में ज्यादा पता नहीं था कि इस तरह की सरफेस पर क्या करना चाहिए। इसके अलावा कुछ शॉट्स को खेलने में कमी रही और अब हमें मजबूत इरादे और योजना की स्पष्टता के साथ वापस आना होगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि, इस विकेट ने हमें उस तरह से शॉट्स खेलने की अनुमति नहीं दी जैसा कि हम चाहते थे। बल्लेबाजी में हमारा प्रदर्शन न्यूनतम स्तर का रहा और हमें इसका भुगतान हार के तौर पर करना पड़ा।

विराट कोहली ने कहा कि, हम कुछ अलग करना चाहते थे, लेकिन हमें ये भी स्वीकार करना होगा कि हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की। उन्होंने श्रेयस अय्यर की तारीफ करते हुए कहा कि, उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की, लेकिन बोर्ड पर जीतने के लिए पर्याप्त रन नहीं थे। ये इंटरनेशनल क्रिकेट के सफर का हिस्सा है और खेल में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं, लेकिन आपको फिर खेल में वापसी करना होता है। आपको बता दें कि, श्रेयस अय्यर ने इस मैच में सबसे ज्यादा 67 रन की पारी खेली थी जबकि विराट कोहली शून्य पर आउट हुए थे। शून्य पर आउट होने के साथ ही वो बतौर भारतीय कप्तान सबसे ज्यादा बार आउट होने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए। विराट इंटरनेशनल क्रिकेट में 14वीं बार शून्य पर आउट हुए और सौरव गांगुली (13 बार) का रिकॉर्ड तोड़ दिया।