Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

भारत सरकार ने Whatsapp पाॅलिसी पर जताई आपत्ति, कहा जल्द इसे वापस लिया जाए

नई दिल्ली। इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप Whatsapp के लिए साल 2021 की शुरुआत अच्छी नहीं रही। कंपनी अपनी नई प्राइवेसी पाॅलिसी को लेकर लगातार चर्चा में बनी हुई है। साथ ही सवालों के घेरे में भी है क्योंकि यूजर्स को अपने नीजि डाटा की प्राइवेसी की चिंता है। जिसके बाद भारत सरकार ने हाल ही में Whatsapp के सीईओ विल कैथार्ट को पत्र लिखकर प्राइवेसी पाॅलिसी में किए गए बदलाव को लेकर जवाब देने को कहा है। साथ ही गोपनियता हस्तांतरण और साझाकरण नीतियों के बारे में कुछ सवाल भी पूछे हैं।

आईटी मंत्रालय ने कहा पाॅलिसी वापस ली जाए

Whatsapp की गोपनीयता नीति में किए जा रहे बदलावों पर चिंता व्यक्त करते हुए केंद्रीय इलेक्ट्राॅनिक्स और आईटी मंत्रालय ने मैसेजिंग प्लेटफाॅर्म Whatsapp से इस बदलाव को वापस लेने के लिए कहा है। मंत्रालय ने Whatsapp के सीईओ विल कैथार्ट को लिखे पत्र में बदलाव को वापस लेने के पर जोर दिया है। पत्र में उल्लेख किया गया है कि गोपनीयता नीति में प्रस्तावित परिवर्तन भारतीय नागरिकों की पसंद और स्वायत्तता के निहितार्थ के बारे मेें गंभीर चिंताएं पैदा करते हैं।