Coronavirus : भारत ने पाक, नेपाल, भूटान, बांग्‍लादेश और म्‍यांमार से लगती सीमाओं पर आवाजाही बंद की

नई दिल्‍ली। भारत ने पाकिस्‍तान नेपाल, भूटान, बांग्‍लादेश और म्‍यांमार से लगती सीमाओं पर आवाजाही बंद कर दी है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बताया कि कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है। आधिकारिक बयान में कहा गया है कि भारत 15 मार्च की आधी रात से नेपाल, भूटान, म्यांमार और बांग्लादेश से लगती सीमाओं पर मौजूद प्रवेश द्वारों (crossing points) पर आवाजाही को अनिश्चित काल के लिए निलंबित कर रहा है। पाकिस्‍तान से लगती सीमाओं पर मौजूद प्रवेश द्वारों पर यह प्रतिबंध 16 मार्च की आधी रात से लागू होगा।

इसके साथ ही केंद्र ने भारत-बांग्लादेश के बीच चलने वाली मैत्री एवं बंधन एक्सप्रेस के संचालन को भी एक महीने के लिए स्थगित करने का फैसला किया है। पूर्व रेलवे की ओर से जारी विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई है। वहीं नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। बता दें कि इस सीमा के रास्ते सिर्फ नेपाल, भूटान और भारत के लोगों को आने जाने की छूट रही है। नेपाल से आने वाले पगडंडी रास्तों पर एसएसबी का पहरा बैठा दिया गया है। सीमावर्ती गांवों में कोरोना से बचाव के लिए स्वास्थ्य कर्मियों एवं डब्ल्यूएचओ की टीम जागरूक कर रही है।

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए नेपाल ने भी विदेशियों के प्रवेश पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। शनिवार रात 12 बजे से यह प्रतिबंध प्रभावी हो गया है। फिलहाल प्रतिबंध 30 मार्च तक के लिए लगाया गया है जिसे बाद में बढ़ाया भी जा सकता है। नेपाल के इस कदम के बाद भारत-नेपाल सीमा विदेशियों के लिए सील हो गई है। हालांकि भारतीय नागरिकों को प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है। इस बीच अब भारत की ओर से प्रवेश पर रोक लगाए जाने से इस मामले में नया मोड़ आ गया है।

कोरोना को के लिए देशभर में युद्ध स्तर पर कोशिशें की जा रही हैं। संदिग्ध मरीजों की पहचान कर उन्हें न सिर्फ अस्पतालों में बने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया जा रहा है। राज्यों की सीमाओं को भी सील कर जांच के बाद ही लोगों को आने-जाने दिया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की विशेषज्ञ टीमें दिन-रात इस काम में लगी हुई हैं। पाकिस्‍तान ने भी कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कई कदम उठाए हैं। पाकिस्‍तानी हुकूमत ने ईरान और अफगानिस्तान के साथ पश्चिमी सीमाएं बंद कर दी हैं। पाकिस्‍तान में इस वायरस से संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 28 हो गई है। ।

Whats App