CAA के खिलाफ हिंसा: लखनऊ पुलिस ने 27 प्रदर्शनकारियों पर लगाया गैंगस्टर एक्ट

yamaha

लखनऊ: राजधानी लखनऊ के खदरा इलाके में सीएए के खिलाफ हुई हिंसा मामले में आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की है। पुलिस कमिश्रर लखनऊ से जारी एक बयान में कहा गया है कि 19 दिसंबर को हिंसक उपद्रव में नामजद और सामने आए 27 आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की गई है। पुलिस ने अपने प्रेस नोट में सभी 27 आरोपियों का नाम और उनके पिता का नाम भी बताया है। पुलिस ने आरोपो की जानकारी देते हुए कहा कि आरोपियों ने चौकी सतखंडा फारुखी मस्जिद कासिम अली पुलिया हुसैनाबाद पर और दूसरे सरकारी संस्थानों पर तोडफ़ोड़ की। पुलिस ने इनपर लूटपाट और आगजनी का आरोप भी लगाया है।

प्रदर्शकारियों ने कई गाडिय़ों को लगाई थी आग
ज्ञात हो कि प्रदर्शनकारियों को नियंत्रण में करने के लिए पुलिस ने बल का प्रयोग करते हुए लाठीचार्ज और आंसूगैस के गोले दागे थे। पुलिस की सख्त कार्रवाई से उग्र प्रदर्शनकारियों ने मधेगंज पुलिस चौकी पर हमला कर दिया था। भीड़ ने यहां न केवल जमकर तोडफ़ोड़ की बल्कि खड़ी कई गाडिय़ों को आग के हवाले कर दिया।

योगी ने दिए थे सख्त कार्रवाई के निर्देश
हिंसा से नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उग्र प्रदर्शनकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिये थे। योगी ने कहा कि उपद्रवियों से सख्ती से निपटा जाए। प्रदर्शन के नाम पर हिंसा किसी भी कीमत पर बर्दास्त नहीं की जाएगी। लखनऊ में जिन प्रदर्शनकारियों ने गाडिय़ों को आग के हमाले किया है उनकी संपत्ति को कुर्क कर इसकी भरपाई की जाएगी। हिंसा में लिप्ट लोगों की संपत्ति जब्त की जाए, लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.