ज्योतिरादित्य सिंधिया पर पहली बार बोले राहुल गांधी, कहा- BJP में नहीं मिलेगा सम्मान

नई दिल्लीः ज्योतिरादित्य सिंधिया के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पहली बार बोलते हुए कहा कि मैं उन्हें भलीभांति जानता हूं। उनके साथ मेरी दोस्ती पुरानी है। हम दोनों एक साथ कॉलेज में पढ़े हैं। वो अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर डरे हुए हैं। लिहाजा उन्होंने अपनी विचारधारा को जेब में रख दिया और आरएसएस के साथ चले गए राहुल गांधी ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को भाजपा में सम्मान नहीं मिलेगा।

अपनी कोर टीम को राज्यसभा न भेजने के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा- ‘मैं कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हूं, मैं राज्यसभा प्रत्याशियों पर निर्णय नहीं ले रहा हूं। मैं देश के युवाओं को अर्थव्यवस्था के बारे में बता रहा हूं। मेरी टीम में कौन है, मेरी टीम में कौन नहीं है, इसका कोई मतलब नहीं है।’ मेरी सिंधिया के साथ पुरानी दोस्ती है, लेकिन सिंधिया के दिल में जो है और मुंह से जो निकल रहा है, वह अलग-अलग चीज है।

इससे पहले बुधवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिलने का समय नहीं देने संबंधी आरोपों को खारिज करते हुए कहा था कि सिंधिया इकलौते व्यक्ति थे, जो उनके घर कभी भी आ सकते थे।

Whats App