कोरोना का खौफ: वाराणसी में डर से भगवान को पहनाया गया मास्क

yamaha

वाराणसी: चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस का संक्रमण कई देशों में फैल चुका है। भारत भी इससे अछूता नहीं है। इसे लेकर पूरे देश सहित उत्तर प्रदेश के बड़े जिलों में प्रशासन की तरफ से अलर्ट घोषित किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में इस वायरस के दहशत से भगवान भी अछूते नजर नहीं आ रहे हैं। भगवान में भी संक्रमण न फैल जाए इसके लिए भक्तों ने उन्हें भी मास्क पहना दिया है। साथ ही अपील की गई है कि वे मूर्तियों को टच न करें। 

शिवलिंग को पहनाया गया मास्क 
खबर वाराणसी के प्रहलाद घाट पर बने प्रह्लादेश्वर मंदिर की है। यहां समाजसेवी रवीन्द्र त्रिवेदी ने अपने साथियों के साथ शिवलिंग को मास्क पहना दिया गया है। साथ ही मंदिर के बाहर भी पोस्टर लगाकर लोगों को सचेत किया गया है। इसमें लिखा है कि मंदिर में आने वाले भक्तों से अपील है कि वह मूर्तियों को न छुएं और फिलहाल दूर से ही पूजा करें।

लोगों को जागरूक करने के लिए भगवान को भी पहनाया मास्क 
रवीन्द्र का कहना था कि कोरोना वायरस का असर अब दुनिया में बढ़ रहा है। यह वायरस छूने से फैलता है। लिहाजा लोगों को जागरूक करने के लिए भगवान को भी मास्क पहनाया गया है। ताकि लोग भी इस वायरस को लेकर जागरूक रहें। लोग हाथ मिलाने से बचें और अफवाह न फैलाएं।

मूर्तियों को स्पर्श न करें
रवीन्द्र त्रिवेदी ने बताया कि हम लोगों ने मंदिर की मूर्तियों और खासकर शिवलिंग को मास्क पहनाया है। साथ ही लोगों से आग्रह किया गया है कि मूर्तियों को स्पर्श न करें, इससे भी वायरस अधिक लोगों तक पहुंच सकता है। पुजारी मुन्ना तिवारी ने बताया कि जिस प्रकार जाड़े में भगवान को कम्बल, गर्मी में पंखा-एसी का इस्तेमाल करते हैं। ठीक उसी तरह जागरुकता के लिए भगवान को भी मास्क पहनाया गया है। काशी भगवान भोले की नगरी है यहां से संदेश दूर-दूर तक जाता है।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.