Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

छतरपुर में मोबाइल विस्फोट से 10 साल की छात्रा गंभीर रूप से घायल, इलाज के लिए ग्वालियर रेफर

छतरपुर: अगर आप मोबाईल स्तेमाल करते हैं तो यह खबर आपके लिए चौंकाने वाली साबित हो सकती है और आप इसका शिकार भी हो सकते हैं। मामला छतरपुर जिले के राजनगर तहसील के बसारी गांव का है जहां कक्षा 5वीं में पढ़ने वाली 10 साल की नाबालिग किरण पटेल मोबाईल फटने से घायल हो गई जिसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल लाया गया है। जहां उसका प्राईमरी इलाज के बाद ग्वालियर मेडिकल के लिए रेफर कर दिया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक किरण को मोबाइल में गेम का बहुत शौक है और वह मोबाइल चार्ज के लिए लगाए हुए थी। चार्ज होने पर जैसे ही वह पर मोबाइल उठाया और तभी अचानक विस्फोट हो गया जिससे उसके कान और दाहिनी आंख में गंभीर चोटें आईं है। खून से लथपथ किरण को परिजन जिला अस्पताल लेकर आये है। जहां आई सर्जन (आंखों के डॉक्टर) ने उसका चेकअप और प्राइमरी ट्रीटमेंट किया गया। यहां इलाज संभव नहीं था जिससे उसे ग्वालियर मेडिकल रैफर किया गया है।

घायल बच्ची के पिता लखन लाल पटेल की मानें तो किसी को इस बात का अंदाजा नहीं था कि मोबाईल फट जाएगा। किसी को इस बात का अंदाजा नहीं था कि कंपनी का मोबाइल इस तरह से फट जाएगा और जान के लाले पड़ जाएंगे। डॉक्टर जीएल अहिरवार का कहना है कि ब्लास्ट इतना तेज था कि उसकी आंख बचना लगभग मुश्किल सा है। आंख से लगातार खून बह रहा है। प्राथमिक उपचार के बाद उसे ग्वालियर रेफर कर दिया गया।

मामला चाहे जो भी हो पर इतना तो तय है कि यह घटना हमें और हमारे बच्चों को एक सीख देती है। मोबाइल देना बच्चों के जीवन के लिए घातक हो गया। अतः हमें आप सभी को इस घटना से सीख लेनी चाहिए जिससे आगामी समय में इस तरह की घटनाओं पर विराम लग सके।