SC/ST मामले में कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर को बड़ी राहत, मिली क्लीन चिट

yamaha

मथुराः उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में वृन्दावन के एक प्रसिद्ध भागवतवक्ता देवकीनन्दन ठाकुर तथा उनके दो सगे भाईयों सहित छह लोगों के खिलाफ एसी एसटी अधिनियम के तहत दर्ज कराये गए मामले की जांच में पुलिस ने कथावाचक एवं उनके भाईयों को क्लीन चिट दे दी है।

उल्लेखनीय है कि उनके खिलाफ घर में घुसकर अनुसूचित जाति समुदाय के व्यक्ति के साथ कथित मारपीट तथा पत्नी के साथ कथित छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया गया था। पुलिस ने न केवल इस मामले में कथा वाचक एवं उनके भाईयों को क्लीन चिट दे दी है बल्कि इस मामले में झूठा मुकदमा दर्ज कराने के आरोप में कथित पत्रकार दंपति के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कर कार्यवाही भी शुरू कर दी गई है।

पुलिस ने देवकीनन्दन ठाकुर एवं उनके भाईयों के खिलाफ साक्ष्य न पाए जाने पर यह कार्यवाही की है। जबकि, रिपोर्ट में दर्ज कराए गए तीन अन्य नामजदों के खिलाफ अदालत में आरोप पत्र दायर कर दी गयी है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर के आदेश पर मामले की जांच कर रहे सीओ रिफाइनरी वरुण कुमार की रिपोर्ट मिलने के बाद यह कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया, ‘स्वयं को पत्रकार बताने वाले थाना हाईवे की राधा वैली कालोनी निवासी पुष्पेंद्र कुमार ने भागवतवक्ता देवकीनन्दन, उनके भाई विजय शर्मा तथा श्यामसुंदर, प्रबंधक गजेंद्र, धर्मेंद्र व अमित के खिलाफ 27 फरवरी को मामला दर्ज कराया था कि इन सभी ने उसके साथ घर में घुसकर मारपीट की तथा उसकी पत्नी के साथ छेड़छाड़ की थी।

दूसरी ओर कोतवाली प्रभारी संजीव कुमार दुबे ने बताया, ‘पुष्पेंद्र एवं उसकी पत्नी द्वारा झूठा मुकदमा दर्ज कराए जाने के कारण दोनों के खिलाफ भादंवि की धारा 182 के तहत एक और मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जिसमें जल्द ही कार्यवाही करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया जाएगा।’

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.