शाहरुख बना दिल्ली हिंसा का बड़ा चेहरा, कार के बाद पिस्टल भी बरामद

yamaha

नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी दिल्ली के मौजपुर इलाकों में 24 फरवरी को हुई हिंसा के दौरान दिल्ली पुलिस के कांस्टेबल पर पिस्टल तानने वाले शाहरुख को लेकर पुलिस को एक और कामयाबी मिली है। दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, उस पिस्टल को भी बरामद कर लिया गया है, जो घटना में शाहरुख ने इस्तेमाल की थी। जिसके बाद शाहरुख, दिल्ली हिंसा का बड़ा चेहरा भी बन गया है।

जानकारी मुताबिक पिछले दिनों दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने शाहरुख की उस कार को भी बरामद कर लिया था, जिससे वह दिल्ली से फरार हुआ था। पूछताछ में शाहरुख ने बताया कि उसने दिल्ली से निकलने के बाद कार को हरियाणा के एक गैराज में छोड़ दिया था। वह कार उसके चाचा के बेटे की है। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने कार को बरामद कर लिया है।

शाहरूख को पकड़वाने में बरेली के ड्रग्स माफिया का बड़ा हाथ
बता दें कि पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि कांस्टेबल दीपक दहिया पर सरेआम पिस्तौल तानने वाले शाहरुख को पकड़वाने में बरेली (उत्तर प्रदेश) के ड्रग्स माफिया का बड़ा हाथ रहा है। जांच में यह भी पता चला है कि पुलिस से बचने के लिए शाहरुख पहले बरेली चला गया और तीन दिन तक यहां पर ठहरा। इस दौरान वह मीरगंज के खानपुरा मोहल्ले और थाने के पास रहने वाले ड्रग माफिया के यहां भी रहा।

ड्रग्स माफिया, दिल्ली नारकोटिक्स के अधिकारियों के संपर्क में था
बताया जा रहा है कि इसी ड्रग्स माफिया ने दिल्ली नारकोटिक्स सेल के हस्तक्षेप पर शाहरुख की गिरफ्तारी की तैयारी कराई। बरेली से यही माफिया उसे लेकर शामली पहुंचा। उसने पहले से ही दिल्ली नारकोटिक्स के अधिकारियों से संपर्क कर रखा था। नारकोटिक्स सेल ने क्राइम ब्रांच को जानकारी दी। जिसके चलते पुलिस ने शाहरुख को दबौचा लिया।

दिल्ली हिंसा में अब तक 53 लोगों की मौत
बता दें कि 24-25 फरवरी को हुई दिल्ली हिंसा में अब तक 53 लोगों की मौत हो चुकी है और 100 से अधिक लोग अब भी घायल हैं और विभिन्न अस्पतालों में उनका इलाज चल रहा है। वहीं इस हिंसा में आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है और वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं। साथ ही कांग्रेस की नेता इशरत जहां भी हिंसा भड़काने के आरोप में जेल में बंद हैं।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.