Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

Indian railway : … ताकि नहीं हो हादसे : सभी रेलवे फाटकों पर लगाई जाएगी जाली

जमशेदपुर। Indian Railway. जुगसलाई फाटक और  लोको क्रासिंग पर बंद फाटक के नीचे से बाइक लेकर पार होते लोगों को देखकर चक्रधरपुर मंडल के डीआरएम वीके साहू व गार्डेनरीच से आए चीफ सेफ्टी अफसर जीके द्विवेदी भड़क गए। तुरंत उन्होंने मंडल के सभी रेलवे फाटक के बूम में जाली लगाने का निर्देश दिया। ताकि फाटक बंद होने के बाद लोग फाटक पार नहीं कर सकें।

दरअसल, गार्डेनरीच से चीफ सेफ्टी अधिकारी पूरी टीम के साथ टाटानगर स्टेशन पहुंचे थे। वहीं चक्रधरपुर मंडल के डीआरएम वीके साहू भी उनके साथ सेफ्टी का निरीक्षण किया। टीम में शामिल अधिकारियों ने आदित्यपुर के स्टोर रूम का निरीक्षण किया। इतना ही नहीं कांड्रा पहुंचने के बाद सेफ्टी उत्पादों की स्थिति देखी। यहां डीआरएम व सेफ्टी अधिकारी हालात देख भड़क गए और संबंधित अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। टीम ने गम्हरिया, चांडिल स्टेशन का निरीक्षण किया। जहां-जहां टीम को खामी नजर आई वहां उसे दुरुस्त करने का निर्देश दिया।

टाटानगर के रनिंग रूम की हुई  सेफ्टी आडिट

टाटानगर के रनिंग रूम की सेफ्टी ऑडिट डीआरएम वीके साहू व चीफ सेफ्टी आफिसर द्वारा की गई । रनिंग रूम के उपकरणों की जांच की गई, ताकि बेकार उपकरण को दुरुस्त या बदला जा सके। इतना ही नहीं टाटानगर के मैक्नाइज्ड लाउंड्री का भी टीम ने निरीक्षण किया। टाटानगर में मेडिकल रिलीफ ट्रेन में रखे सेफ्टी के उपकरणों का भी निरीक्षण किया। वासिंग लाइन में भी टीम पहुंची और बारिकी से यहां का भी निरीक्षण किया।  निरीक्षण के बाद गुरुवार की रात करीब 8.30 बजे डीआरएम चक्रधरपुर व गार्डेनरीच से आए चीफ सेफ्टी आफिसर गेर्डनरीच लौट गए।

130 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेनें : डीआरएम

चक्रधरपुर मंडल के डीआरएम वीके साहू ने बताया कि थर्ड लाईन जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा  मार्च के अंतिम सप्ताह तक 130 किलोमीटर प्रतिघंटे के रफ्तार से ट्रेन का परिचालन शुरू करने का प्रयास किया जाएगा। ताकि यात्रियों को समय पर गंतव्य तक पहुंचाया जा सके। डीआरएम ने कहा कि सेफ्टी आॉडिट के दौरान कई खामियों को महसूस किया गया है। इसे जल्द ही दुरुस्त कर लिया जाएगा।