Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

भाजपा सरकार के समय भूख से माैत पर खूब हल्ला मचाता था विपक्ष, अब हेमंत सरकार बता रही सब ठीक-ठाक

धनबाद। ज्यादा दिन नहीं हुए हैं। रघुवर दास के नेतृत्व में झारखंड की भाजपा सरकार को विदा हुए अभी दो माह ही तो बीते हैं-जनवरी और फरवरी। भाजपा सरकार की जिन नीतियों को लेकर झामुमो, कांग्रेस, राजद और तमाम विपक्षी दल रोज-रोज हमला बोलते थे। झारखंड में कथित भूख से माैत को लेकर तो हर माह किसी न किसी जिले में वितंडा खड़ा होता था। देशभर के सामाजिक कार्यकर्ता भी दाैड़े चले आते थे। अब जब झारखंड में भाजपा विपक्ष में है और हेमंत सोरेन के नेतृत्व में झामुमो गठबंधन की सरकार चल रही है तो सब कुछ ठीक-ठाक लगने लगा है। झारखंड विधानसभा में सरकार ने जवाब दिया है कि पिछले पांच साल में एक भी व्यक्ति की भूख से माैत नहीं हुई है।

भाकपा (माले) के विधायक विनोद सिंह ने झारखंड विधानसभा में सवाल पूछा था- क्या यह बात सही है कि गत पांच वर्षों में राज्य में एक दर्जन से ज्यादा माैत भूख एवं कुपोषण से हुई है, जिन्हें राशन सुचारु रूप से नहीं मिल पाता था। इसका जवाब राज्य के खाद्य, सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले के मंत्री रामेश्वर उरांव ने दिया है। उन्होंने लिखित जवाब में माैत की बात को अस्वीकार किया है। बगोदर के विधायक विनोद सिंह कहते हैं, झारखंड में भूख एवं कुपोषण एक बड़ी समस्या है। यह हमें स्वीकार करना चाहिए। लेकिन, दिक्कत यह है कि सत्ता में बैठने वालों का चीजें देखने का नजरिया बदल जाता है। यही कारण है कि सरकारें बदलती रहती हैं लेकिन समस्याएं अपनी जगह पर बनी रहती हैं।