दिल्ली हिंसा के आरोपी ताहिर हुसैन ने कोर्ट में किया सरेंडर, बोले- मैं तबाह हो गया

yamaha

नई दिल्ली: दिल्ली हिंसा के मुख्य आरोपी और आदमी पार्टी से निष्कासित पार्षद ताहिर हुसैन ने आज कोर्ट में सरेंडर कर दिया है हैं। उन्होंने खुद इस बात की जानकारी दी है।  ने दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में सरेंडर किया। ताहिर हुसैन के खिलाफ हिंसा में मारे गए आईबी अधिकारी अंकित शर्मा के पिता ने हत्या का आरोप लगाया है। वही उसपर हिंसा करवाने का भी आरोप है जिसके बाद उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

सरेंडर करने से पहले उन्होंने एक एक टीवी चैनल पर कहा कि मुझ पर गलत आरोप लगाए हैं। अंकित की हत्या पर कहा कि यह जांच के बाद ही उनकी मौत का कारण पता चलेगा। मैं खुद उसकी मौत से बहुत दुखी हूं। मैं उस वक्त वहां पर नहीं था, मेरे परिवार का भी वहां कोई नहीं था। उन्होंने कहा कि दिल्ली दंगों में उनका सब कुछ तबाह हो गया है।

इससे पहले दिल्ली हिंसा के बाद से ताहिर की तलाश में जुटी एसआईटी ने दिल्ली-एनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 14 स्थानों पर उसकी तलाश में छापेमारी की थी। एसआईटी सूत्रों की मानें तो ताहिर 2 मोबाइल नंबरों का इस्तेमाल करते रहे। 24 तारीख को 12 बजे तक की कॉल डिटेल्स खंगाली गई, जिसके मुताबिक ताहिर हुसैन 24 की रात 12 बजे के आस-पास तक चांद बाग के उसी घर में मौजूद था। वहीं जांच मे यह बात भी सामने आई थी कि ताहिर ने 24 तारीख को (हिंसा के दिन) दिनभर में करीब 150 कॉल किए थे।

ताहिर हुसैन ने गिरफ्तारी से बचने के लिए कड़कड़डूमा कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी।  ताहिर हुसैन पर इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) के कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या के मामले के आरोप हैं। साथ ही उत्तरी-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा में ताहिर हुसैन के खिलाफ केस दर्ज है। हत्या, आगजनी और हिंसा फैलाने के आरोप का सामना कर रहे आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को अब तक पुलिस पकड़ नहीं सकी है। ताहिर हुसैन की तलाश में पुलिस कई जगहों पर छापेमारी कर चुकी है। ताहिर हुसैन के घर पर भी पुलिस छापेमारी कर चुकी है।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.