गजराज बने यमराज: चाकुलिया में जंगली हाथी ने एक की ली जान Jamshedpur News

yamaha

चाकुलिया। Elephand chrushed a youth in Chakuliya Jharkhnad कोल्‍हान में गजराज यमराज बन गए हैं। गांवों में हाथियों के दाखिले की वजह से जान-माल का लगातार नुकसान हो रहा है। ताजा घटना चाकुलिया वन क्षेत्र अंतर्गत मटियाबांधी पंचायत की है।  घाघरा निवासी 28 वर्षीय सहदेव सिंह को जंगली हाथियों ने कुचल कर मार डाला।

घटना रविवार रात की बताई जाती है। उस समय सहदेव  किसी रिश्तेदार के घर से अपने गांव लौट रहे थे। इसी क्रम में महिषाधारा जंगल के समीप जंगली हाथियों से उनका सामना हो गया। हाथी ने  सहदेव को सूंड में लपेट कर जमीन पर पटक दिया तथा पैर से सिर कुचल दिया जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलने पर क्षेत्र के जिला पार्षद जगन्नाथ महतो वनपाल बुद्धदेव समेत अन्य लोग मौके पर पहुंचे।

सात महीनों में सात की मौत

मृतक की पत्नी को बतौर तत्काल मुआवजा 25000 रुपए दिए गए। शेष पौने चार लाख विभागीय प्रक्रिया पूरी करने के बाद देने का आश्वासन दिया गया। बीते 7 महीनों के भीतर चाकुलिया वन क्षेत्र में हाथी  7 लोगों को मौत की नींद सुला चुके हैं।

12 एकड़ गरमा धान की फसल बर्बाद 

बडशोल के लुगाहारा और  लोधनवनी गांव में शनिवार की  रात हाथियों के झुंड ने गरमा धान की  12 एकड़ फसल और बास बागान को बर्बाद कर दिया था।  प्रभावित किसानों में लुगाहारा के किसान हरीश माहातो, गंडी माहातो, त्रिलोचन माहातो, बलीदास माहातो, मानस माहातो, जगेंद्र महतो, डॉक्टर महतो, मनमथ महतो, करमचांद महतो आदि शामिल हैं। लोधनवनी के किसान तुसार महतो, नरेन मुंडा, महादेव मुंडा, कांशा मुंडा, नीलकंठ महतो, अमिताभ मुंडा आदि शामिल हैं। किसानों ने बताया कि रात करीब 11 बजे पश्चिम बंगाल के बाकरा जंगल से करीब एक दर्जन हाथी ने आकर दहशत मचाया। हाथी पानीशोल होते हुए नवोदय स्कूल के बगल से जंगल की और चला गया। इससे गांव की करीब 12 एकड़ गरमा धान की फसल को नुकसान पहुंचा।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.