Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर तकरार, राहुल गांधी को याद आए जज लोया

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली हिंसा मामले में सुनवाई करने वाले दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति एस मुरलीधर के तबादले पर सवाल खड़े किए। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने न्याय अवरुद्ध करने का प्रयास किया है। राहुल गांधी ने दिवंगत न्यायाधीश लोया के मामले का उल्लेख करते हुए सरकार पर तंज कसा।

PunjabKesari

कांग्रेस नेता ने वीरवार को ट्वीट कर लिखा कि बहादुर जज लोया को नमन, जिनका ट्रांसफर नहीं किया गया था। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की 12 फरवरी की सिफारिश को बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे से चर्चा के बाद मंजूरी दे दी। इस संदर्भ में अधिसूचना जारी कर दी गई है। बुधवार को जस्टिस मुरलीधर की पीठ ने दिल्ली हिंसा मामले में पुलिस को फटकार लगाते हुए तीन भाजपा नेताओं के खिलाफ एफआईआर के लिए कहा था। अब कांग्रेस इस मसले पर कई सवाल खड़े कर रही है।

कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला ने भी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि भाजपा के नेताओं को बचाने के लिए आधी रात को ही सरकार ने जस्ट मुरलीधर का ट्रांसफर चंडीगढ़ कर दिया। एक स्वतंत्र और मजबूत न्यायपालिका इस देश की रीढ़ की हड्डी है। उन्होंने कहा था कि ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई सरकार सत्ता के नशे में चूर है और वह इस देश के संविधान देश की न्यायपालिका को कमजोर करती जा रही है।