Logo
ब्रेकिंग
स्वीप के तहत मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने हेतु विभिन्न कार्यक्रमों का हुआ आयोजन। कांग्रेसी नेता बजरंग महतो ने किया जनसंपर्क, दर्जनों ने थामा कांग्रेस का दामन । माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव भंडारा के साथ संपन्न युवक ने प्रेमिका के लवर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देकर कुएं में फेंकी लाश । 1932 खतियान राज्यपाल ने किया वापस, झामुमो में आक्रोश, किया विरोध, फूंका प्रधानमंत्री का पुतला । रामगढ़ विधानसभा उपनिर्वाचन 2023 के मद्देनजर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता कराटे बेल्ट ग्रेडेशन टेस्ट सह प्रशिक्षण शिविर में 150 कराटेकार शामिल, उत्कृष्ट प्रदर्शनकारी को मिला ... श्रीराम सेना के विशाल हिंदू सम्मेलन में राष्ट्रवादी प्रखर प्रवक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और अंतरराष्... भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी

बालाकोट हमले की पहली बरसी पर वायु सेना प्रमुख भदौरिया ने मिग विमान के साथ भरी उड़ान

नई दिल्लीः बालाकोट एयर स्ट्राइक की पहली बरसी पर वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने श्रीनगर से वायुसेना के उन जांबाजों के साथ पांच विमानों के मिशन पर उड़ान भरी जो पाकिस्तान के भीतर घुसकर एक आतंकी प्रशिक्षण शिविर को नेस्तनाबूद करने के अभियान में शामिल थे। एयर चीफ मार्शल भदौरिया ने एक मिग-21 टाइप 69 विमान के साथ उड़ान भरी। उनके साथ दो मिराज-2000 और दो सुखोई-30 एमकेआई विमान भी उड़ान भर रहे थे।

एक साल पहले के अभियान को याद करते हुए वायु सेना ने कहा कि वह भारत की संप्रभुता और अखंडता की रक्षा के पवित्र कार्य को निभाते हुए अन्य रक्षा सेवाओं के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है। वायु सेना प्रमुख ने बालाकोट अभियान की बरसी पर पांच विमानों के मिशन के लिए उड़ान भरी। पिछले साल 26 फरवरी को उक्त अभियान में भारत के युद्धक विमानों ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के एक शिविर पर निशाना साधा था।

पुलवामा में आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत ने यह कार्रवाई की थी। अगले दिन पाकिस्तान ने भी जवाबी कार्रवाई की कोशिश की लेकिन वायु सेना ने उसके विमानों को मार गिराया। इसके बाद दोनों परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्रों के बीच युद्ध का डर मंडराने लगा।

nanhe kadam hide