Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

दिल्ली हिंसा: देर रात जामिया के छात्रों ने घेरा सीएम केजरीवाल का घर, पुलिस ने लिया हिरासत में

उत्तर पूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर हिंसक प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजधानी में मंगलवार को भी हिंसा का माहौल बना नजर आया। देर रात जामिया मिलिया इस्लामिया के स्टूडेंट्स और कुछ पूर्व छात्रों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर का घेराव किया। वह केजरीवाल की ओर से कोई ठोस प्रतिक्रिया नहीं आने को लेकर नाराज थे।

जामिया कोडिर्नेशन कमेटी और एलुमनी असोसिएशन ऑफ जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों मंगलवार देर रात साढ़े 12 बजे केजरीवाल के आवास का घेराव करने का आह्वान किया और आरोप लगाया कि पिछले तीन दिनों से राजधानी में खुलेआम हिंसा हो रही है लेकिन मुख्यमंत्री की ओर से कोई जिम्मेदारी वाला बयान नहीं है। प्रदर्शनकारियों ने मांग की है कि हिंसा में शामिल गुंडों के खिलाफ केजरीवाल को अवश्य कड़ी प्रतिक्रिया देनी चाहिए। प्रदर्शनकरियों को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने पानी की बौछारें की और कुछ छात्रों को हिरासत में लिया।

हिरासत में लिए गए लोगों को सिविल लाइन थाने ले जाया गया था, जिसके बाद उन्हे छोड़ दिया गया। इनमें से कुछ घायल हैं जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा है। कोडिर्नेशन कमेटी ने हिंसा के खिलाफ आज जंतर मंतर पर प्रदर्शन के लिए लोगों से बड़ी संख्या में शामिल होने का आह्वान किया है। वहीं तनावपूर्ण हालात के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने कल देर रात उत्तर-पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त कार्यालय पहुंचकर हिंसा के मौजूदा हालात के बारे में अधिकारियों से जानकारी ली और हिंसाग्रस्त इलाकों का दौरा किया। गौरतलब है उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 13 लोगों की मौत हो गई है और 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं। कल रात से किसी बड़ी हिंसा की सूचना नहीं है लेकिन हालात बेहद तनावपूर्ण है।