सामने थी हिंसक भीड़…सीने में तनी थी पिस्तौल, फिर भी डटा रहा पुलिस का यह जवान

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद और मौजपुर इलाकों में संशोधित नागरिकता कानून को लेकर हुई झड़पों में दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल की मौत हो गई जबकि पुलिस उपायुक्त घायल हो गए। मौजपुर चौराहे सहित पूरे इलाके में जहां पुलिसकर्मियों को उपद्रवियों ने सड़कों पर निशाना बनाया, वहीं जब पुलिस उन्हें नियंत्रण करने आई तो छतों से लोगों ने उन पर पत्थर फेंके। जब प्रदर्शनकारी खुलेआम गोलियां बरसा रहे थे तब दिल्ली पुलिस के जवान जांबाजी के साथ उनका सामना कर रहे थे।

Padmaja joshi

@PadmajaJoshi

Chilling that this man is still free. This anti-CAA protestor reportedly ran up to the cop here and shouted ‘maar dunga tumhein’ while pointing the gun at him, reports ⁦@priyanktripathi

Embedded video

1,289 people are talking about this

दिल्ली में हिंसा और आंतक फैलाते का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें एक लाल शर्ट में उपद्रवी पुलिसकर्मी पर पिस्टल तानता दिख रहा है। वह बंदूक हाथ में थामे पुलिसकर्मी की ओर बढ़ता है और हवा में कुछ राउंड फायरिंग भी करता है। हालांकि इसके बावजूद पुलिसकर्मी पीछे नहीं हटता है। वह संयम से युवक को समझा रहा है, लेकिन उपद्रवी उसके पास जाता है और उसकी छाती पर पिस्टल तान कर वापस जाने की बात कहता है और फायर भी करता है।

यह पुलिसवाला भीड़ से भी नहीं डरा और अपनी जगह पर डटा रहा। हिंसा के दौरान जवान की इस जांबाजी को लोग सलाम कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर उनकी यह तस्वीर काफी वायरल हो रही है, जिसे काफी पसंद किया जा रहा है। फिलहाल यह पता नहीं लग पाया है कि यह पुलिस का जवान कौन है। पुलिस सूत्रों का दावा है कि इलाके में काफी राउंड गोलियां उपद्रवियों की तरफ से चलाई गई हैं। उपद्रव के दौरान कई लोग पिस्टल लगाकर घूम रहे थे। यही नहीं, कई जगह पर लोग घरों से भी फायरिंग करते हुए देखे गए।

Whats App