अलीगढ़: CAA के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान बवाल, पुलिस वाहनों पर पथराव, इंटरनेट बंद

yamaha

अलीगढ़ः उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ शहर के तुर्कमान गेट इलाके में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के मद्देनजर जिला प्रशासन ने रविवार आधी रात तक इंटरनेट पर रोक लगा दी है। प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान पुलिस की जीप पर पथराव किया और इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। अलीगढ़ परिक्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि तुर्कमान गेट इलाके में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कुछ लोगों ने पुलिस की एक जीप पर पथराव किया। जिसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर उन्हें खदेड़ दिया।
प्रदर्शनकारियों द्वारा नजदीक के रविदास मंदिर में पथराव किए जाने की खबर को गलत बताते हुए सिंह ने कहा कि मंदिर में कहीं कोई तोड़फोड़ नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि पुलिस जीप पर पथराव के मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। हम सीसीटीवी कैमरा की फुटेज खंगाल रहे हैं और दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। दूसरी ओर जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के बाद आज आधी रात तक इंटरनेट पर पावंदी लगा दी गई है ।

उन्होंने बताया कि सीएए और एनआरसी के विरोध प्रदर्शन के दौरान करीब दो बजे कुछ युवकों ने तुकर्मान गेट पर प्राचीन नवदुर्गा पथवारी मंदिर पर पथराव कर दिया। मंदिर पर पत्थराव के विरोध में बाल्मिकी बस्ती के लोग भी सड़क पर आ गये। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर पत्थराव किया। मौके पर पंहुचे पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों ने लोगों को समझाबुझाकर मामला शांत कराया। उसके बाद तनाव को देखते हुए एहतियातन पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। अधिकारी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

इससे पहले अलीगढ़ पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स ने रविवार को सीएए के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए कचहरी जा रहे भीम आर्मी कार्यकर्ताओं को रास्ते में ही रोक लिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि भीम आर्मी से जुड़े प्रदर्शनकारी जब पुराने शहर से कटपुला पुल को पार करने जा रहे थे, तभी बड़ी संख्या में पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों ने उन्हें रोक लिया। पुलिस द्वारा अवरोध उत्पन्न किये जाने के बाद प्रदर्शनकारी ईदगाह की तरफ चले गये जहां बड़ी संख्या में महिलाएं सीएए के खिलाफ पिछले तीन हफ्तों से प्रदर्शन कर रही हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजमुनि ने बताया कि इस मामले में तीन लोगों के खिलाफ निषेधाज्ञा का उल्लंघन कर माहौल खराब करने की कोशिश के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.