Namaste Trump: US प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप भी खाएंगे हरिओम के पान, जानिए- इसकी खूूबियां

yamaha

नई दिल्ली। अपने दो दिवसीय भारत दौरे के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति दिल्ली भी आएंगे और इस दौरान वह नामी होटल मौर्या शेरेटन होटल में ठहरेंगे। दिल्ली में रहने के दौरान जहां उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप दिल्ली के सरकारी स्कूल में हैप्पीनेस क्लास में जाकर जायजा लेंगीं, वहीं पति राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पान का स्वाद भी लेंगे।

कनॉट प्लेस ही नहीं दिल्ली-एनसीआर में भी प्रसिद्ध पांडेय पान भंडार के मालिक हरिओम पांडेय ने बताया कि डोनाल्ड ट्रंप के लिए पान मंगवाया गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए स्पेशल पान बनाया जाएगा। उनकी दुकान में 150 से अधिक किस्म के पान उपलब्ध हैं। हरिओम ने बताया कि लगभग सभी विदेशी राष्ट्राध्यक्षों को उनकी दुकान का पान खिलाया जाता है।

आज और कल आम लोगों के लिए बंद रहेगा राजघाट

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने परिवार के साथ सोमवार शाम दिल्ली पहुंचेंगे। मंगलवार को वह राजघाट पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देंगे। सुरक्षा को देखते हुए राजघाट को सोमवार दस बजे से मंगलवार शाम तक आम लोगों के लिए बंद कर दिया जाएगा।

खास होगी सुरक्षा

राजघाट पर ट्रंप व उनके परिवार के स्वागत के लिए तैयारियों को अंतिम रूप दिया रहा है। गेट की तरफ से दिखने वाली अनावश्यक चीजों को हरे कपड़े से ढक दिया गया है। राजघाट के बोर्ड से लेकर पत्थरों पर जमी धूल को साफ किया जा रहा है। सुरक्षा को लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है। राजघाट के सचिव केपी सिंह ने बताया कि सोमवार से राजघाट में आम लोगों के प्रवेश पर पाबंदी रहेगी।

राजघाट पर रहेगी खुफिया एजेंसियों की नजर

सूत्रों के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप मंगलवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे राजघाट पहुंचेंगे। हालांकि, आखिरी समय में फेरबदल मुमकिन है। इस वजह से एक दिन पहले से अमेरिकी और भारतीय खुफिया एजेंसियां राजघाट पर खास नजर रखेंगी। राष्ट्रपति ट्रंप के साथ उनकी पत्नी, बेटी व दामाद के अलावा केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी भी मौजूद रहेंगे।

राजघाट पर फूलों के गुलदस्ते लगाने की योजना
इस अवसर को खास बनाने के लिए राजघाट के वीआइपी गेट से लेकर समाधि स्थल तक फूलों के गुलदस्ते लगाने की यजना भी है। मगर यह सभी गुलदस्ते राष्ट्रपति के आगमन के दो घंटे पहले ही लगाए जाएंगे। ताकि उनको ताजी खुशबू मिल सके। यहां नई कालीन भी मंगाई गई है। अगर बारिश हुई तो प्लास्टिक वाली कालीन बिछेगी, अगर मौसम साफ रहा तो ऊनी कालीन बिछाई जाएगी।

पौधा रोपने का कार्यक्रम अब तक नहीं

ट्रंप का राजघाट पर पौधा रोपने का अब तक कोई कार्यक्रम नहीं बना है। इसके लिए राजघाट समाधि कमेटी ने तैयारी कर रखी थी, मगर विदेश मंत्रालय की तरफ से बताया गया कि फिलहाल इसकी जरूरत नहीं है।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.