ProtsahitSwati maliwal divorce: दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति का पति से तलाक, किया ट्वीट ‘करूंगी मिस’

स्वाति मालीवाल ने अन्य ट्वीट किया है- हर दिन ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि वो हमें और हमारे जैसे लोगों को यह पीड़ा सहने की ताकत दें।

yamaha

Protsahit

नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग (Delhi Women’s Commission chairman Swati Maliwal) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल का अपने पति नवीन जयहिंद से तलाक हो गया है। नवीन जयहिंद आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष हैं और हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 उन्हीं के नेतृत्व में लड़ा गया था। स्वाति मालीवाल ने अपने तलाक की जानकारी खुद ट्वीट के जरिये जानकारी साझा की है। इसी के साथ उन्होंने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है- ‘मिस करूंगा’।

पति नवीन जयहिंद से अपने तलाक को लेकर स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) ने ट्वीट किया है- यह मेरे लिए बेहद दुखद घड़ी है। सबसे दर्दनाक क्षण तब होता है जब आपकी परियों की कहानी समाप्त होती है। मेरी भी कहानी समाप्त हो गई है। मैंने और और नवीन ने तलाक ले लिया है। कभी-कभार दो बेहतरीन शख्स भी साथ नहीं रह पाते हैं। मैं अपने पूर्व पति को बहुत याद करूंगी। उन्हें और भविष्य में उनके साथ जो जिंदगी होती, उसे मिस करूंगी

स्वाति मालीवाल ने अन्य ट्वीट किया है- हर दिन ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि वो हमें और हमारे जैसे लोगों को यह पीड़ा सहने की ताकत दें।

जानिए- स्वाति मालीवाल के बारे में

  • दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष बनाए जाने से पहले स्वाति मालीवाल अरविंद केजरीवाल की सलाहकार (शिकायत) थीं।
  • सूचना का अधिकार (Right to Information) कार्यकर्ता होने के साथ  इंडिया अगेंस्ट करप्शन (India Against Corruption) की सबसे युवा सदस्य के रूप में काम कर चुकीं स्वाति वर्ष 2006 से ही अरविंद केजरीवाल के साथ जुड़ी हुई हैं।
  • पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर स्वाति मालीवाल ने अपनी बेहद शानदार नौकरी छोड़कर बतौर RTI कार्यकर्ता समाज सेवा को अपना करियर चुना।
  • दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में जन्मीं स्वाति मालीवाल की शादी रोहतक (हरियाणा) के रहने वाले नवीन जयहिंद से हुई।
  • स्वाति मालीवाल ने दिल्ली में जगह-जगह चल रहे अनैतिक देह व्यापार को लेकर व्यापक स्तर पर काम किया है। वह कई बार महिलाओं से जुड़े मसलों को लेकर धरने पर भी बैठ चुकी हैं।
  • अंतिम बार वह दुष्कर्म के दोषियों को जल्द से जल्द फांसी देने की मांग को लेकर दिल्ली के राजघाट पर धरने पर बैठी थीं।
raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.