Logo
ब्रेकिंग
DISNEY LAND MELA का रामगढ़ फुटबॉल मैदान में हुआ शुभारंभ विस्थापितों की 60% की भागीदारी सुनिश्चित नहीं हुई, तो होगा CCl का चक्का जाम Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा*

कोरोना वायरस से बचाव, पर स्वाइन फ्लू की चपेट में दिल्ली…अब तक 43 लोग संक्रमित

वहीं डॉक्टरों का कहना है कि स्वाइन फ्लू से घबराने या डरने की जरूरत नहीं है। यह ऐसा संक्रमण है जिससे बचाव संभव है

नई दिल्लीः चीन के वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस से दुनिया में अबतक 69 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। हांलाकि भारत में अभी इस वायरस का ज्यादा असर नहीं है। भले ही कोरोना वायरस से भारत में लोगों का बचाव है लेकिन दिल्ली में H1N1 (स्वाइन फ्लू) वायरस यहां पर ऐक्टिव हो गया है। दिल्ली में जनवरी से अब तक स्वाइन फ्लू के 43 लोग संक्रमित पाए गए हैं। राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) की रिपोर्ट के अनुसार 2 फरवरी तक दिल्ली में स्वाइन फ्लू के 43 मरीज की पुष्टि की गई है। जबकि पिछले साल दिल्ली में स्वाइन फ्लू से कुल 3627 लोग संक्रमित हुए थे, जिसमें से 31 लोगों की जान चली गई थी। हालांकि इस साल अभी तक इस वायरस से किसी मौत नहीं हुई है।

स्वाइन फ्लू से डरने की जरूरत नहीं
वहीं डॉक्टरों का कहना है कि स्वाइन फ्लू से घबराने या डरने की जरूरत नहीं है। यह ऐसा संक्रमण है जिससे बचाव संभव है और इसका इलाज भी मौजूद है। डॉक्टरों ने कहा कि जरूरत है कि लोग समय पर इलाज के लिए अस्पताल पहुंचें और इस वायरस के प्रति जागरूक रहें। डॉक्टरों के मुताबिक यह वायरस एक से दूसरे में फैलता है, खांसने, छींकने या छूने से भी एक से दूसरे में यह वायरस पहुंच जाता है। इसलिए ऐसे लोग जो इस वायरस के शिकार हैं, उन्हें आइसोलेट करके रखना चाहिए। डॉक्टरों के मुताबिक इस वायरस के लिए हमारे पास एंटी वायरस दवा और वैक्सीन भी उपलब्ध है। डॉक्टर ने लोगों को अलर्ट रहने की सलाह दी है और कहा कि इसके लक्षण पर जरूर गौर करें, जिसमें बुखार के साथ सर्दी, जुकाम, खांसी, गले में खराश और सांस लेने में परेशानी हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलें।