Logo
ब्रेकिंग
DISNEY LAND MELA का रामगढ़ फुटबॉल मैदान में हुआ शुभारंभ विस्थापितों की 60% की भागीदारी सुनिश्चित नहीं हुई, तो होगा CCl का चक्का जाम Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा*

पुलवामा हमला: CRPF का शहीदों को सलाम, कहा-‘हम भूले नहीं, हमने छोड़ा नहीं’

20 साल के पुलवामा इलाके के ही स्थानीय कश्मीरी युवक ने एक विस्फोटक से भरी गाड़ी से CRPF के काफिले को टक्कर मार दी थी।

14 फरवरी का दिन इतिहास में जम्मू-कश्मीर की एक दुखद घटना के साथ दर्ज है। साल 2019 में आतंकवादियों ने इस दिन को देश के सुरक्षाकर्मियों पर कायराना हमले के लिए चुना। राज्य के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से CRPF जवानों की बस को टक्कर मार दी। इस हमले में 40 से ज्यादा जवान शहीद हुए थे और कई गंभीर रूप से घायल हुए थे। आज पुलवामा में हुए आतंकी हमले की पहली बरसी है, इस मौके पर सीआरपीएफ ने भी अपने जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए याद किया और लिखा-‘हमने भूला नहीं, हमने छोड़ा नहीं।’ साल 2019 में भी जब जवानों पर आतंकी हमला हुआ तब भी CRPF ने कुछ ऐसा ही ट्वीट किया था। शुक्रवार को CRPF ने ट्वीट किया कि-

“तुम्हारे शौर्य के गीत, कर्कश शोर में खोये नहीं।
गर्व इतना था कि हम देर तक रोये नहीं।”

CRPF ने लिखा कि हम अपने भाईयों को सलाम करते हैं, जिन्होंने पुलवामा में देश के लिए जान दी, हम उनके परिवारों के साथ कंधे से कंधा लगाकर खड़े हैं।

बता दें कि पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने पुलवामा में हमला किया था। 20 साल के पुलवामा इलाके के ही स्थानीय कश्मीरी युवक ने एक विस्फोटक से भरी गाड़ी से CRPF के काफिले को टक्कर मार दी थी। इस हमले ने पूरे देश को हिला कर रख दिया था। CRPF ने  पुलवामा हमले को अंजाम देने वाले  मास्टरमाइंड और जैश के स्थानीय आतंकी कामरान को 100 घंटे के अंदर ही मौत के घाट उतार दिया था। 27 फरवरी को भारतीय सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक की थी, जिसमें कई आतंकियों के मारे जाने का दावा किया गया था।