नक्सलियों से मुठभेड़ में बांदा का लाल शहीद, अंतिम दर्शन के लिए उमड़े लोग

बीजापुर जिले के पामेड़ थाना क्षेत्र में नक्सलियों और सीआरपीएफ कोबरा 204 बटालियन के जवानों के बीच मुठभेड़ हुई.

बांदा: उत्तर प्रदेश के बांदा जिले का एक सीआरपीएफ जवान छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से मुठभेड़ के दौरान शहीद हो गया। अधिकारियों की सूचना मिलते ही घर में कोहराम मच गया। बुधवार को शहीद जवान विकास का पार्थिव शरीर बांदा उनके गांव लाया गया। जहां पर उनके अंतिम दर्शन के लिए हजारों की संख्या में लोग गांव में पहुंच गए।

बता दें कि बीजापुर जिले के पामेड़ थाना क्षेत्र में नक्सलियों और सीआरपीएफ कोबरा 204 बटालियन के जवानों के बीच मुठभेड़ हुई, इसमें एक नक्सली मारा गया जबकि 2 जवान शहीद हो गए।  मुठभेड़ में 6 जवान भी घायल हुए है।  जिनमें सीआरपीएफ कमांडेंट भी शामिल हैं, शहीद हुए जवानों के नाम उत्तर प्रदेश के बांदा निवासी विकास कुमार और छत्तीसगढ़ राजनांदगाव निवासी पूर्णानंद साहू हैं।बुधवार को शहीद जवान विकास का पार्थिव शरीर बांदा उनके गांव लाया गया।  इस दौरान अंतिम दर्शन के लिए हजारों की संख्या मे लोग गांव पहुंचे।  शहीद को राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई दी गई।  इस दौरान डीआईजी एसपी डीएम के साथ तमाम अधिकारी मौजूद रहे।

दरअसल, सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के जवान  के इलाके में नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना  मिली थी। जिस पर तिपापुराम कैंप से पामेड़ क्षेत्र की ओर सर्चिंग पर निकले थे. इसी दौरान ईरापल्ली के जंगलों में मौजूद नक्सलियों ने हमला कर दिया।

इस हमले  में दो जवान शाहीद हो गए। घायल जवानों की मदद के लिए जवानों के दल को घटनास्थल भेजा गया।  इस मुठभेड़ में घायल अस्टिेंट कमांडेंट प्रशांत को भी गोली लगी है। जिनका इलाज चल रहा है।

Whats App