Logo
ब्रेकिंग
आजसू पार्टी पर कांग्रेस ने लगाया मतदाताओं को भ्रमित और प्रभावित करने का आरोप । स्वीप के तहत मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने हेतु विभिन्न कार्यक्रमों का हुआ आयोजन। कांग्रेसी नेता बजरंग महतो ने किया जनसंपर्क, दर्जनों ने थामा कांग्रेस का दामन । माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव भंडारा के साथ संपन्न युवक ने प्रेमिका के लवर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देकर कुएं में फेंकी लाश । 1932 खतियान राज्यपाल ने किया वापस, झामुमो में आक्रोश, किया विरोध, फूंका प्रधानमंत्री का पुतला । रामगढ़ विधानसभा उपनिर्वाचन 2023 के मद्देनजर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता कराटे बेल्ट ग्रेडेशन टेस्ट सह प्रशिक्षण शिविर में 150 कराटेकार शामिल, उत्कृष्ट प्रदर्शनकारी को मिला ... श्रीराम सेना के विशाल हिंदू सम्मेलन में राष्ट्रवादी प्रखर प्रवक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और अंतरराष्... भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू

16 फरवरी को सुबह 10 बजे रामलीला मैदान में होगी केजरीवाल की ताजपोशी, पूरी दिल्ली को न्योता

प्रचंड बहुमत से जीत दर्ज करने वाले केजरीवाल ने बुधवार को सिविल लाइंस में अपने आधिकारिक आवास पर विधायकों से मुलाकात की

नई दिल्लीः दिल्ली में आम आदमी पार्टी (AAP) की प्रचंड जीत के बाद बुधवार को अरविंद केजरीवाल विधायक दल के नेता चुने गए। इसके साथ ही केजरीवाल अब तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री के तौर पर 16 फरवरी को शपथ लेंगे। केजरीवाल के साथ उनकी कैबिनेट के मंत्री भी शपथ ग्रहण करेंगे। मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। सिसदोिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बतायाकि केजरीवाल 16 फरवरी को सुबह 10 बजे रामलीला मैदान में शपथ ग्रहण करेंगे। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली वालों  शपथ ग्रहण में जरूर आना। इस दौरान सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली की जनता काम को पसंद करती है, राजनीति का विकास मॉडल सिर्फ केजरीवाल के पास है। लोगों को सस्ती बिजली देना, पानी उपलब्ध कराना ही असली देशभक्ति है। दिल्ली के लोगों ने संदेश दे दिया है कि केजरीवाल हमारा बेटा है, चुनाव के दौरान काफी नफरत फैलाई गई।

मंगलवार को प्रचंड बहुमत से जीत दर्ज करने वाले केजरीवाल ने बुधवार को सिविल लाइंस में अपने आधिकारिक आवास पर विधायकों से मुलाकात की और इस दौरान उन्हें विधायक दल का नेता चुना गया। इससे पहले बुधवार सुबह केजरीवाल उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात करने पहुंचे। चुनाव नतीजों के बाद ये पहली औपचारिक मुलाकात है।

बता दें कि दिल्ली के चुनावी रण में आम आदमी पार्टी एक बार फिर से विजेता बनकर उभरी है। केजरीवाल की अगुवाई में AAP ने लगातार दूसरी बार जीत की आंधी में विरोधियों को उड़ा दिया। मंगलवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव के आए नतीजों में AAP ने 70 में से 62 सीटें जीती हैं, जबकि भाजपा सिर्फ 8 सीटों पर सिमट गई और कांग्रेस का तो सूपड़ा ही साफ हो गया। 2015 की तरह इस बार भी कांग्रेस शून्य पर रही।

nanhe kadam hide