Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

हावड़ा-नई दिल्ली रेल मार्ग पर दर्दनाक घटना, 25 हजार वोल्ट के तार से छह जलकर हुए राख l

हावड़ा-नई दिल्ली रेल मार्ग पर दर्दनाक घटना, 25 हजार वोल्ट के तार से छह जलकर हुए राख

धनबाद : हावड़ा-नई दिल्ली रेल मार्ग पर आज सोमवार को दिल दहला लेने वाली घटना घटी है। धनबाद से गोमो के बीच निचितपुर हाल्ट के पास 25 हजार वोल्ट तार की चपेट में आकर छह लोगों की जल कर मौत हो गई है। कई दूसरे लोग भी बिजली तार की चपेट में आकर झुलस गए हैं।

घटना को लेकर इस रेल मार्ग पर अप और डाउन में ट्रेनों का परिचालन रोक दिया गया है। हावड़ा-बीकानेर एक्सप्रेस धनबाद स्टेशन पर रोकी गई है। डाउन में आ रही कालका-हावड़ा नेताजी एक्सप्रेस को तेतुलमारी स्टेशन पर रोका गया है। रेल अधिकारी और रेलवे के डाक्टर व पारा मेडिकल स्टाफ सड़क मार्ग से घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं। धनबाद से दुर्घटना राहत मेडिकल यान भी रवाना हो चुका है।
घटना को लेकर प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, धनबाद रेल मंडल में प्रधानखंता से बंधुआ तक लगभग 200 किमी रेल मार्ग पर ट्रेनों की गति 120 से 160 किमी प्रति घंटे करने को लेकर काम चल रहा है। सोमवार को रेलवे के टीआरडी विभाग की ओर से निचितपुर हाल्ट के रेल फाटक पास पोल लगाने का काम कराया जा रहा था। जहां हाई टेंशन तार से सट गया जिससे करंट दौड़ गया और मौके पर ही पांच की झुलस कर मौत हो गई। घटना के बाद भगदड़ मच गई।
मरने वालों में लातेहार, बरवाडीह और प्रयागराज के मजदूर
ट्रैक्शन पोल लगाने के लिए 22 मजदूरों को लाया गया था। मजदूर धनबाद के भूली में ठहराए गए थे। टीम लीडर बबलू कुम्हार है। उससे मरने वालों की पहचान करायी जा रही है। अब तक लातेहार के संजय भुइयां, प्रयागराज के सुरेश मिस्त्री व पलामू के गोविंद सिंह व नामदेव सिंह की पहचान हो सकी है। अन्य की पहचान का प्रयास किया जा रहा है।