Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

कोरोना को रोकने के लिए सरकार उठा सकती है बड़ा कदम, जल्द ही 45 साल से नीचे वालों के आ सकता है यह नियम

नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण बचाव के लिए टीके की मांग बढ़ने लगी है। इसलिए 45 से कम उम्र के लोगों को भी टीके का इंतजार है। डाॅक्टर भी कहते हैं कि कोरोना के मौजूदा लहर को रोकने के लिए टीकाकरण को बढ़ाना सख्त जरूरी है। इसी क्रम में एक अप्रैल से 45 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण शुरू हुआ। इस टीकाकरण अभियान से जुड़े डाक्टर बताते हैं कि अगले माह से 45 से कम उम्र के लोगों का भी टीकाकरण शुरू हो जाएगा। इसके तहत 35 से अधिक उम्र लोगों का टीकाकरण होगा।

टीकाकरण बढ़ाने के साथ-साथ मास्क का इस्तेमाल जरूरी

हालांकि, डाॅक्टर कहते हैं कि कोरोना के कहर से बचने के लिए टीकाकरण बढ़ाने के साथ-साथ मास्क का इस्तेमाल सबसे ज्यादा जरूरी है। 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाने का काम शुरू होने के बाद देश भर में टीकाकरण अभियान में तेजी आई है। दिल्ली में भी दो दिन में एक लाख 31 हजार 912 लोगों को टीका लगा है। इसके तहत एक लाख 17 हजार 595 लोगों ने टीके की पहली डोज ली है।

जल्द होगा शुरू

मौलाना आजाद मेडिकल कालेज के निदेशक प्रोफेसर डा. सुनीला गर्ग ने कहा कि 45 से कम उम्र के लोगों का टीकाकरण भी बहुत जल्द मई से शुरू हो जाएगा, क्योंकि सोच यह है कि 18 साल तक की उम्र के लोगों का टीकाकरण जल्द होना चाहिए। लेकिन इस बात का भी ध्यान रखा जा रहा है कि सबको जल्द टीका उपलब्ध कराने के चक्कर में अधिक जोखिम वाले लोग टीका से वंचित न हो जाएं। इसलिए क्रमवार टीकाकरण अभियान आगे बढ़ रहा है।

जल्द लें टीका

स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों को संक्रमण का खतरा अधिक था। इसलिए पहले स्वास्थ्य कर्मियों व अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों का टीकाकरण हुआ। फिर बुजुर्गों की बारी आई। क्योंकि, कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें बुजुर्गों की हुई है। युवाओं से ज्यादा 45 से 59 साल की उम्र के लोगों को कोरोना से खतरा है। इसलिए अभी 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका लग रहा है। इसलिए 45 से अधिक उम्र के लोगों को जल्द टीकाकरण केंद्र पर पहुंचकर टीका लगवा लेना चाहिए।

बचाव के लिए मास्क अभी सबसे बेहतर

डा. सुनीला गर्ग ने कहा कि सिर्फ टीके के भरोसे कोरोना के मौजूदा संक्रमण से नहीं बचा जा सकता। बचाव के लिए मास्क सबसे बेहतर विकल्प है। ज्यादातर लोगों ने मास्क पहनना बंद कर दिया है। इस वजह से संक्रमण फैल रहा है। एम्स के कम्युनिटी मेडिसिन के प्रोफेसर डा. संजय राय ने कहा कि कोरोना का संक्रमण अभी ज्यादा बढ़ने का खतरा है। सबको एक साथ टीका लगाना आसान नहीं है। टीके से प्रतिरोधकता भी दोनों डोज टीका लगने के बाद आती है। इसलिए बचाव के लिए मास्क, हाथ को सैनिटाइज करना और शारीरिक दूरी के नियम का पालन जरूरी है।