Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

6 महीने के टॉप पर कोरोना का कहर, देश के कई शहरों में लॉकडाउन, जानें- कहां क्या पाबंदियां

नई दिल्ली। पहले केरल और उसके बाद महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों से देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के जो संकेत मिले थे, पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक और गुजरात समेत कुछ राज्यों में मरीजों की संख्या में आए उछाल ने उसकी पुष्टि कर दी है। हालात बयां कर रहे हैं कि वैश्विक महामारी की दूसरी लहर पहली से भी ज्यादा संक्रामक है। फिलहाल थोड़े सुकून की बात यह है कि दूसरी लहर अभी तक ज्यादा घातक नजर नहीं आ रही।

हालांकि, छह महीने बाद एक दिन में करीब 82 हजार नए मामले मिले हैं और लगभग चार महीने बाद 469 लोगों की मौत भी हुई है, लेकिन नमूनों की जांच की तुलना में दैनिक मृतकों की संख्या पहले की तुलना में कम है।केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से शुक्रवार की सुबह आठ बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों के दौरान देश भर में कोरोना संक्रमण के 81,466 नए मामले मिले हैं।

इससे पहले पिछले साल दो अक्टूबर को 81,484 नए केस पाए गए थे, यानी शुक्रवार की तुलना में 18 ज्यादा। इस दौरान 469 लोगों की मौत भी हुई और 50,356 लोगों को अस्पताल से छुट्टी भी मिली। पिछले साल छह दिसंबर को 482 लोगों की जान गई थी। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1.23 करोड़ से अधिक हो गया है। इनमें से 1.15 करोड़ से अधिक लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं और 1,63,396 लोगों की जान भी जा चुकी है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई राज्य सरकारें अपने यहां पाबंदियां लगानी शुरू कर दी है। आइए जानते हैं कहां-कहां लगा है क्या क्या प्रतिबंध…

मप्र के 4 जिलों में आज रात से फुल लॉकडाउन (Lockdown in MP)

मध्यप्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण के चलते राज्‍य में चार जिलों मे एक दिन से अधिक का लॉकडाउन  लगाने का फैसला लिया गया है। छिंदवाड़ा में तीन दिन और बैतूल ,खरगोन और रतलाम में दो दिन की पूर्णबंदी का आज रात से लागू हो जाएगा है। बता दें गुरुवार को मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 2546 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 2,98,057 हो गई है। इसके मद्देनजर मध्‍य प्रदेश शासन ने यह कदम उठाया है।

वहीं, एमपी के 11 जिलों के 12 शहरों में शनिवार रात 10 बजे से सोमवार को सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। इंदौर, भोपाल, जबलपुर, छिंदवाड़ा, रतलाम, बैतूल और खरगोन में पहले से ही लॉकडाउन का आदेश है। ग्वालियर, उज्जैन, विदिशा, नरसिंहपुर और छिंदवाड़ा जिले के सौंसर में भी लॉकडाउन लगाने का आदेश जारी किया गया है।

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में 6 अप्रैल से कंप्लीट लॉकडाउन (Lockdown in Chhattisgarh)

कोरना वायरस की स्थिति को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने बढ़ा कदम उठाया है। दुर्ग कलेक्टर सर्वेश्वर भुरे ने बताया कि दुर्ग जिले में 6 से 14 अप्रैल पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया है। छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण अब गांवों में भी पैर पसार रहा है। जिले के ढौर गांव में ही 180 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इस गांव में कुछ दिनों पहले झांकी और मेला का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इससे संक्रमण फैलने की आशंका जताई जा रही है। अधिकारियों ने बताया कि कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कहा है कि जिले में संक्रमण के बढ़ते मामलों के बाद यह जरूरी है कि लॉकडाउन के माध्यम से इसे नियंत्रित किया जाए। इसके लिए नागरिकों का सहयोग बेहद जरुरी है।

दिल्ली में नहीं लगेगा लॉकडाउन, जानें- क्या कहा- सीएम केजरीवाल ने (No Lockdown In Delhi)

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस की रफ्तार ने फिर से परेशानी खड़ी कर दी है। पिछले दिनों रोजाना एक हजार से कुछ अधिक नए मामले आ रहे थे, वहीं अप्रैल के पहले ही दिन दिल्ली में 2790 नए मामले और दो अप्रैल को जब सीएम केजरीवाल कोरोना पर आपात बैठक कर रहे थे उस दौरान 3583 नए मामले सामने आए। इसके बाद शुक्रवार को सीएम केजरीवाल ने आपात बैठक बुलाई। इस बैठक में दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों की चर्चा की गई। चर्चा के बाद सीएम केजरीवाल ने लॉकडाउन न लगाने का फैसला किया है। इसके साथ ही उन्होंने टीकाकरण पर भी अपनी बात कही है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि देश के लिए कोरोना की दूसरी लहर हो सकती है, दिल्ली के लिए कोरोना की चौथी लहर है। बहुत तेजी से कोरोना के केस बढ़ रहे हैं। ये चिंता का विषय है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार पूरी निगरानी कर रही है। जो भी कदम उठाने चाहिए, वह उठा रहे हैं।

उद्धव बोले- ऐसे रहा तो लगाना ही पड़ेगा लॉकडाउन (Maharashtra Lockdown News)

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच शुक्रवार रात सीएम उद्धव ठाकरे ने जनता को सबोधित किया। सीएम उद्धव ठाकरे ने राज्य में लॉकडाउन लगाने की संभावना पर कहा कि कोरोना के चलते महाराष्ट्र में लॉकडाउन लगेगा या नहीं लगेगा, इस पर मैं अभी कुछ भी नहीं बोलूंगा। हालांकि जो हालात इस समय हैं, अगर ये आगे भी जारी रहेंगे तो संभालना मुश्किल होगा। इसके बार लॉकडाउन की आखिरी उपाय है। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य में 70 फीसद टेस्ट आरटीपीसीआर से ही हो रहे हैं। सीएम ने कहा कि कोविड आने से पहले पिछला मार्च आपको याद होगा हमारे पास बेड्स नहीं थे, उतने ऑक्युपमेंट्स नहीं थे लेकिन करीब आज 3 लाख 75 बेड्स हमने तैयार किए हैं। लॉकडाउन का उपयोग हमने अपनी जिम्मेदारी बढ़ाने के लिए किया था, जिसमें हम कामयाब भी हुए।

महाराष्ट्र के पुणे में लगा आंशिक लॉकडाउन (Maharashtra Lockdown News)

महाराष्ट्र के पुणे (Pune Lockdown) शहर के डिविजनल कमिश्नर सौरभ राव ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बड़ा ऐलान किया है। उनके मुताबिक अब पुणे शहर में बार, रेस्टोरेंट और होटल 7 दिन के लिए बंद रहेंगे, सिर्फ पार्सल सेवा शुरू रहेगी। शहर के सभी धार्मिक स्थलों को आगामी 7 दिनों के लिए बंद रखा गया है। पुणे में चलने वाली बस सेवा को भी 7 दिनों तक बंद रखने का फैसला किया गया है। इस दौरान सभी राजनीतिक और सामाजिक कार्यक्रम भी बंद रहेंगे। पहले से तय शादी समारोह में सिर्फ 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं जबकि अंतिम संस्कार में 20 लोगों की अनुमति होगी। शाम 6 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू का ऐलान आगामी एक सप्ताह के लिए किया गया है।