Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

शोपियां मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकी ढेर, जवान शहीद

श्रीनगर : दक्षिण कश्मीर के वानगाम (शोपियां) में शनिवार को एक भीषण मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया। इस दौरान एक सैन्यकर्मी शहीद व दो अन्य जख्मी हो गए। मारे गए आतंकियों के कुछ और साथियों के घेराबंदी में फंसे होने की संभावना के मद्देनजर सुरक्षाबलों ने मुठभेड़स्थल को चारों तरफ से घेरकर तलाशी अभियान जारी रखा हुआ था।

मुठभेड़ में शहीद सैन्यकर्मी 34 आरआर के पिंकू कुमार हैं। अन्य दो घायल जवानों की हालत गंभीर, लेकिन स्थिर बताई जाती है। बीते 36 घंटों में वादी मे शहीद होने वाले पिंकू कुमार तीसरे सुरक्षाकर्मी हैं। इससे पूर्व वीरवार की शाम को लावेपोरा में आतंकी हमले में दो सीआरपीफ कर्मी शहीद हुए थे।

वहीं मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों की पहचान कर ली गई है। मारे गए एक आतंकवादी की पहचान हिजबुल मुजाहिदीन आतंकवादी संगठन के इनायत उल्लाह शेख पुत्र मोहम्मद अमीन शेख निवासी रामनगरी शोपियां के रूप में हुई है। वह पिछले तीन वर्षाें से हिजबुल मुजाहिदीन का सक्रिय आतंकवादी था। दूसरे आतंकवादी की पहचान आदिल अहमद मलिक निवासी अनतंनाग जिला के धनवाटपोरा कोकरनाग के रूप में हुई है। मारे गए दोनों आतंकवादियों के कब्जे से एमओ-4 राइफल, एक एके राइफल और एक पिस्तौल बरामद हुई है।

शोपियां से संबंधित अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने सेना की 34 आरआर औैर सीआरपीएफ के जवानों के साथ हरमेन में तलाशी अभियान चलाया था। पुलिस को पता चला था कि वहां दो से तीन आतंकी किसी संपर्क सूत्र से मिलने आए हैं। वानगाम-दानगाम इलाके की घेराबंदी करते हुए जैसे ही सुरक्षाबलों ने घर-घर तलाशी शुरू की तो वहां छिपे आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। जवानों ने जवाबी गोलीबारी कर आतंकियों को मुठभेड़ में उलझा लिया। जवानों ने आतंकियों को कई बार आत्मसमर्पण करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने गोलीबारी जारी रखी। जवानों ने भी जवाबी गोलीबारी की, जिसमें एक आतंकी मारा गया।

सुरक्षाबलों ने जैसे ही मारे गए आतंकी के शव को अपने कब्जे में लेने का प्रयास किया, उसके जिंदा बचे साथियों ने फायरिंग शुरू कर दी। इसमें तीन सैन्यकर्मी घायल हो गए। अन्य जवानों ने आतंकियों की फायरिंग का जवाब देते हुए न सिर्फ मारे गए आतंकी का शव व हथियार अपने कब्जे में लिए बल्कि अपने घायल साथियों को भी वहां से निकाला। घायल सैन्यकॢमयों को उसी समय उपचार के लिए श्रीनगर स्थित सेना के 92 बेस अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में घायल सैनिक पिंकू कुमार ने शहादत पाई। इस बीच, मुठभेड़स्थल पर एक और आतंकी मारा गया।