Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

दिल्ली पुलिस की आंखों में मिर्च पाउडर झोंक कुख्यात बदमाश को छुड़ा ले गए साथी, एनकाउंटर में एक ढेर

नई दिल्ली। मशहूर हरियाणवी गायिका हर्षिता दहिया के हत्यारोपित गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी गिरोह के शातिर बदमाश कुलदीप उर्फ फज्जा को उसके साथियों ने दिल्ली में दिनदहाड़े छुड़ा लिया है। पूर्वी दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में हुई इस घटना के दौरान पुलिस और बदमाशों के बीच कई राउंड फायरिंग भी हुई है।  मुठभेड़ में जो बदमाश मरा है, उसका नाम रवि है। इसपर कई मुकदमे दर्ज थे। जो घायल हुआ है उसका नाम अविनाश है। ज्वाइंट सीपी आलोक कुमार ने बताया कि पूरी वारदात बृहस्पतिवार को 12 बजकर 30 मिनट की है। इस दौरान बदमाशों को काबू करने के लिए पुलिस की ओर से 12 गोलियां चलाई गई हैं। फिलहाल बदमाशों की स्कोर्पियों कार को पुलिस कब्ज़े में लेकर जांच कर रही है। किसकी कार है? अभी यह पता नहीं चला है।

बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस नामी बदमाश कुलदीप उर्फ फज्जा को जीटीबी अस्पताल में मेडिकल के लिए लाई थी। इसी दौरान यहां पर कार से आए बदमाशों ने पुलिस की आंखों में मिर्च पाउडर झोंक दिया। इसके बाद कुलदीप को कस्टडी से छुड़ाने के लिए बदमाश गेट नम्बर 7 से पैदल बाहर भाग निकले। यह भी जानकारी सामने आई है कि अस्पताल के बाहर बदमाशों ने मोटरसाइकिल लूटी और उससे फरार हो गए। वहीं, सूत्रों की मानें तो एक बदमाश मुठभेड़ में मारा गया है और एक घायल हुआ है। जिसको पुलिस ने पकड़ लिया है। 5 से 8 बदमाश कुलदीप को छुड़ाने आए थे। अब पुलिस कुलदीप समेत सभी बदमाशों की तलाश में जुट गई है।

पिछले साल तीन मार्च की रात दिल्ली पुलिस ने कुख्यात गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी के साथ ही कुलदीप उर्फ फज्जा को गुरुग्राम से धर दबोचा था। इस दौरान रोहित उर्फ मोई एवं कपिल उर्फ गौरव को भी गुरुग्राम के सेक्टर-83 इलाके की एक सोसायटी से गिरफ्तार किया गया था।

इससे पहले वर्ष 2015 में हत्या एक मामले में फरार चल रहे 75 हजार के इनामी बदमाश कुलदीप उर्फ फज्जा को अलीपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। कुख्यात गैंगस्टर जोगिंद्र उर्फ जोगी का शार्पशूटर कुलदीप ने आजादपुर मंडी के पास एंटी गिरोह के एक सदस्य की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसी में वह गिरफ्तार हुआ था।

दिल्ली पुलिस की मानें तो बदमाश कुलदीप दिल्ली विश्वविद्यालय से बीएससी की पढ़ाई कर चुका है। कॉलेज के दिनों में ही वह कुख्यात बदमाश जोगेंद्र उर्फ जोगी के संपर्क में था और फिर धीरे-धीरे वह गैंग का अहम सदस्य बन गया। पढ़ाई पूरी करने के बाद कुलदीप कुख्यात बदमाश जोगेंद्र के साथ अपराध की घटनाएं अजाम देने लगा। वह विरोधी गिरोह के कई बदमाशों पर अब तक जानलेवा अटैक कर चुका है।

कुलदीप ने जनवरी, 2015 में बवाना के एक कारोबारी से आई-20 कार लूटी थी। फिर 21 जनवरी को आजादपुर सब्जी मंडी के पास विरोधी गिरोह के सदस्य दीपक उर्फ राजू की गोली मारकर हत्या कर दी थी। आरोप है कि कुलदीप, जोगिंदर व उनके साथी जरनैल ने इस वारदात को अंजाम दिया था

कुलदीप ने इससे पहले 2013 में सुनील मान नामक एक व्यक्ति को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया था। इसके अलावा 2014 में उसने अलीपुर इलाके में विरोधी गिरोह के सदस्य विकास पर भी गोली चला दी थी।