Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

वसीम रिजवी की अपील- इस्लामिक आतंकवाद से बचने के लिए हिंदुस्तानी करें मेरा सपोर्ट

लखनऊ: कुरान की आयतों पर बयान देने के बाद शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी मुस्लिम संगठनों के निशाने पर आ गए हैं। अब वसीम रिजवी ने एक और वीडियो मैसेज जारी कर हिंदुस्तान के लोगों से उनका सपोर्ट करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि आज जब उन्होंने देश को इस्लामिक आतंकवाद से बचाने के लिए कुरान से कुछ आयतों को हटाने की बात कही तो पूरा मुस्लिम समाज उनके खिलाफ खड़ा हो गया है। उन्होंने कहा कि उन्हें लगातार जान से मारने की धमकी मिल रही है।

रिज़वी ने कहा, ‘हमने पूरी दुनिया को आतंकवाद से बचाने और हिंदुस्तान को इस्लामिक आतंकवाद से बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट से अपील की है, क्योंकि आज हिंदुस्तान सबसे ज्यादा इस्लामिक आतंकवाद से जूझ रहा है। 1400 साल पहले एक साजिश के तहत क़ुरान-ए-मजीद में कुछ आयतों को पिरोया गया जो आतंकवाद को बढ़ावा देते हैं। यही वजह है कि दुनिया में जिहाद के नाम पर और अन्य वजहों के नाम पर आतंकवाद तेजी से फ़ैल रहा है। हिंदुस्तान में भी अनेक आतंकी हमले हो चुके हैं। हमने बहुत कुछ खोया है। हम यह नहीं चाहते की हमारी आने वाली नस्लें भी हिंदुस्तान में बहुत कुछ खोए। हमने क़ुरान-ए-मजीद में साजिशन आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली आयतों के खिलाफ आवाज उठाई तो हमारा सर काटने और आतंकी तालीम का सपोर्ट करते हुए पूरा मुस्लिम समाज हमारे खिलाफ खड़ा हो गया है। हमारी हिन्दुस्तानियों से अपील है कि वे मेरा सपोर्ट करें।

जानने योग्य है कि वसीम रिजवी ने सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल कर अपील की है कि कुरान से उन 26 आयतों को हटा दिया जाए जो कि आतंकवाद को बढ़ावा देती हैं। जिसके बाद शिया और सुन्नी समाज में उनके खिलाफ जबरदस्त गुस्सा है। कुछ मुस्लिम धर्मगुरुओं ने उनके रिजवी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।