Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

शोपियां मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकी ढेर, एक जवान घायल

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर के जिला शोपियां के इमाम साहिब इलाके के मनिहाल गांव में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच आज सोमवार शुरू हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकियों को मार गिराया। मारे गए आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। मारे गए चार आतंकियों में से तीन की पहचान आमीर शरीफ उर्फ अबू कासिम, रईस अहमद भट और आकिब अहमद मलिक के तौर पर हुई है। हालांकि अधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं की गई है।

मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार व गोलाबारूद भी बरामद हुए हैं। इस दौरान कुछ मकानों को क्षति भी पहुंची है। इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाने के बाद सुरक्षाबलों ने कोई और आतंकी मौजूद न होने की पुष्टि होने पर अभियान को समाप्त करने की घोषणा कर दी है। मुठभेड़ में एक जवान घायल भी हुआ है जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना उन्हें गत रविवार रात को मिली थी। सूचना के आधार पर पुलिस की एसओजी, सेना की 34 आरआर और सीआरपीएफ की 178 बटालियन के जवानों की एक संयुक्त टीम ने गांव की रात में ही घेराबंदी शुरू कर दी थी। आज सुबह जब सुरक्षाबलों ने गांव में सर्च ऑपरेशन शुरू किया तो एक मकान में छिपे आतंकवादियों ने उन्हें अपने नजदीक आते देख गोलियां बरसाना शुरू कर दी।

जवाबी कार्रवाई करते हुए सुरक्षाबलों ने छिपे आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने के लिए बार-बार कहा परंतु आतंकवादियों ने गोलीबारी जारी रखी। एक के बाद एक सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया। इसी बीच एक आतंकी जंगल की ओर भाग निकला। पेड़ों की आड़ में छिपे आतंकी को भी सुरक्षाबलों ने जल्द ही ढूंढ निकाला। उसे एक बार फिर आत्मसमर्पण करने का मौका दिया गया परंतु उसने सुरक्षाबलों पर गोलियां बरसाना शुरू कर दी।

सुबह साढ़े आठ बजे के करीब सुरक्षाबलों ने चौथे आतंकी को भी मार गिराया। चारों आतंकियों के ढेर होने के बाद सुरक्षाबलों ने इलाके में एक बार फिर सर्च ऑपरेशन चलाया। जब यह सुनिश्चित हो गया कि इलाके में और कोई आतंकी मौजूद नहीं है, तो अभियान को समाप्त कर दिया।  मुठभेड़ के दौरान सेना का एक जवान भी घायल हुआ जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मारे गए चारों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से संबंध रखते थे और इनमें से तीन की पहचान आमीर शरीफ उर्फ अबू कासिम, रईस अहमद भट और आकिब अहमद मलिक के तौर पर बताई जा रही है। चौथे आतंकी की पहचान की जा रही है। हालांकि अधिकारिक तौर पर पुलिस ने इन अातंकियों की पहचान जाहिर नहीं की है।