Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

शोपियां के रावलपोरा में जारी मुठभेड़ में एक आतंकी ढेर, जैश का डिवीजनल कमांडर सज्जाद अफगानी को सुरक्षाबलों ने घेरा

श्रीनगर : शोपियां के रावलपोरा में शनिवार रात को मुठभेड़ के बाद आतंकियों को घेर उनके भागने के सभी रास्ते बंद कर दिए हैं। देर रात गए तक आतंकियों को सरेंडर करने के प्रयास जारी थे। दावा किया जा रहा कि घेराबंदी में जैश ए मोहम्मद का स्थानीय डिवीजनल कमांडर विलायत उर्फ सज्जाद अफगानी भी है।इसी बीच आज यानि रविवार सुबह सुरक्षाबलों को एक आतंकवादी को ढेर करने में सफलता मिली है। अलबत्ता अभी भी मुठभेड़ जारी है।

अफवाहें फैलाने की आशंका से मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक

अफवाहें फैलाने की आशंका से निपटने के लिए प्रशासन ने शोपियां में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर भी अगले आदेश तक रोक लगा दी है। जानकारी के अनुसार, रावलपोरा में गत शनिवार दोपहर बाद स्वचालित हथियारों से लैस आतंकियों का दल देखा था। स्थानीय लोगों द्वारा सूचित किए जाने पर पुलिस ने सेना की 34 आरआर व सीआरपीएफ की 188वीं वाहिनी के जवानों के साथ मिलकर गांव में तलाशी अभियान चलाया। जवान जब गांव में आगे बढ़ रहे थे तो खेतों के पास एक जगह छिपे आतंकियों ने घेराबंदी तोड़ भागने का प्रयास किया। उन्होंने जवानों पर गोली चलाई। जवानों ने जवाबी फायर किया और उसके बाद गांव में मुठभेड़ शुरू हो गई।

अंधेरा होने पर जवान ने किसी प्रकार की नागरिक क्षति से बचने के लिए अपनी तरफ से फायरिंग बंद कर दी। आतंकी किसी तरह से घेराबंदी न तोड़ सकें, इसे सुनिश्चित बनाने के लिए जवानों ने आतंकियों को चारों तरफ से घेर लिया है। सभी रास्तों को कंटीले तार से बंद कर दिया गया और रोशनी के लिए गांव में फ्लड लाइटस लगा दी गई हैं। संबंधित अधिकारियों ने बताया कि आतंकियों को बार बार सरेंडर के लिए कहा जा रहा है। स्थानीय गणमान्य नागरिकों की भी मदद ली जा रही है। अंतिम सूचना मिलने तक रविवार सुबह भी मुठभेड़ जारी है। आतंकियों को आत्मसमर्पण करने के लिए बार-बार अपील की जा रही है।