Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

विशाखापट्टनम नौसेना जासूसी मामला: NIA ने दायर किया गुजरात के शख्स के खिलाफ चार्जशीट

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी  (NIA) ने शुक्रवार को बताया कि इसने इमरान याकूब गितेली उर्फ गितेली इमरान (Imran Yakub Giteli aka Giteli Imran) के खिलाफ पूरक चार्जशीट दायर कर दी है। बता दें कि मामले में इमरान याकूब मुख्य आरोपी है। पिछले साल इस मामले में NIA ने भारतीय नौसेना की संवेदनशील जानकारी पाकिस्तान को लीक करने के आरोप में प्रमुख साजिशकर्ता मोहम्मद हारुन हाजी अब्दुल रहमान लकड़ावाला को गिरफ्तार किया था। विशाखापट्टनम जासूसी का मामला एक अंतरराष्ट्रीय रैकेट से संबंधित है, जिसमें पाकिस्तान में स्थित और भारत के विभिन्न स्थानों से जुड़े लोग शामिल हैं।

जांच एजेंसियों के मुताबिक 2018 के मध्य से विशाखापट्टनम, मुंबई और कारवाड़ बेस पर तैनात सात नौसेना कर्मी ISI हैंडलर को भारतीय नौसेना के जहाजों और पनडुब्बियों के बारे में संवेदनशील सूचनाएं लीक कर रहे थे। NIA प्रवक्ता ने कहा कि गोधरा निवासी गितेली  पर भारतीय दंड संहिता की अनेक धाराओं के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में NIA की विशेष अदालत में ये चार्जशीट दायर किए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि गितेली का संपर्क पाकिस्तानी एजेंटों से था जिनसे वह हमेशा पाकिस्तान में मुलाकात किया करता था। प्रवक्ता ने बताया, ‘पाकिस्तानी ISI एजेंटों के निर्देशों पर वह नौसेना के खाते में धन भेजा करता था जिसके बदले में उसे संवेदनशील जानकारियां मिलती थीं।’ अधिकारियों ने बताया कि 38 वर्षीय गितेली अवैध तरीके से कपड़ों के बिजनेस की आड़ में आतंकियों के लिए धन उगाही करता था।

 NIA प्रवक्ता ने कहा कि गोधरा निवासी गितेली  पर भारतीय दंड संहिता की अनेक धाराओं के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में NIA की विशेष अदालत में ये चार्जशीट दायर किए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि गितेली का संपर्क पाकिस्तानी एजेंटों से था जिनसे वह हमेशा पाकिस्तान में मुलाकात किया करता था। प्रवक्ता ने बताया, ‘पाकिस्तानी ISI एजेंटों के निर्देशों पर वह नौसेना के खाते में धन भेजा करता था जिसके बदले में उसे संवेदनशील जानकारियां मिलती थीं।’ नौसेना की खुफिया एजेंसी, सेंट्रल एजेंसियों व आंध्र प्रदेश की राज्य खुफिया विंग ने संयुक्त रूप से एक ‘डॉलफिन नोज’  नाम से ऑपरेशन को अंजाम दिया जिसमें इस पूरे मामले का पर्दाफाश हुआ।

वर्ष 2019 के दिसंबर में NIA ने जासूसी के इस मामले को अपने हाथ में लिया था। इसके बाद एजेंसी ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को संवेदनशील जानकारी लीक करने के आरोप में भारतीय नौसेना के 7 कर्मियों और एक कथित हवाला ऑपरेटर को भी गिरफ्तार किया था। पुलिस ने कहा था कि गिरफ्तार सभी अधिकारी पाकिस्तानी महिलाओं के संपर्क में थे, जिन्होंने फेसबुक पर उनसे दोस्ती की थी। आरोप है कि अधिकारियों को सूचना उपलब्ध कराने के एवज में हवाला ऑपरेटर के माध्यम से भुगतान किया गया था।