Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

तमिलनाडु में मतदाताओं को वोट डालने के लिए दिए जाएंगे दस्ताने, संक्रमितों को उपलब्ध कराई जाएगी पीपीई किट

चेन्नई। तमिलनाडु में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) किट उपलब्ध कराई जाएंगी जबकि अन्य मतदाताओं को वोट डालने के लिए दस्ताने दिए जाएंगे। यह कदम कोविड-19 महामारी के मद्देनजर उठाया गया है। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) सत्यब्रत साहू ने सोमवार को बताया कि मतदान के दिन वोट डालने से पहले हर मतदाता को दस्ताने दिए जाएंगे ताकि इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के जरिये संक्रमण का प्रसार न हो।

किए जाएंगेे कोरोना से बचाव के सभी उपाय 

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि छह अप्रैल को मतदान के दिन कोविड-19 का प्रसार रोकने के लिए सभी उपायों को किया जाएगा। मसलन, थर्मल स्कैनर से लोगों के शरीर के तापमान की जांच करना। उन्होंने लोगों से अपील की कि मास्क लगाकर मतदान केंद्र जाएं और एक-दूसरे से दूरी भी बनाकर रखें।

आखिरी के एक घंटे में वोट डालने की अनुमति

साहू ने कहा कि अगर किसी व्यक्ति को बुखार है या उसे कोरोना वायरस से संक्रमित होने का संदेह है तो उसे चिकित्सा प्रमाण पत्र दिया जाएगा और आखिरी के एक घंटे में वोट डालने की अनुमति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर कोई शख्स कोरोना वायरस से संक्रमित है या उसे शक है कि वह वायरस से पीडि़त है तो उसे पीपीई किट पहनकर वोट डालने की इजाजत दी जाएगी। पीपीई किट की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए इंतजाम किए गए हैं।

50 फीसद मतदान केंद्रों पर वेब कैमरों से नजर

सीईओ ने कहा कि महामारी को ध्यान में रखते हुए मतदान केंद्रों और कर्मचारियों की संख्या में इजाफा किया गया है। अब कुल 88,937 मतदान केंद्र होंगे तथा 4,79,892 कर्मियों को तैनात किया जाएगा। राज्य में 76 मतगणना केंद्र होंगे। उन्होंने बताया कि अब तक वेब कैमरों से केवल संवेदनशील मतदान केंद्रों की निगरानी की जाती थी, लेकिन अब 50 फीसद मतदान केंद्रों पर वेब कैमरों से नजर रखी जाएगी।

दर्ज कराई जा सकती है चुनाव संबंधी शिकायत

साहू ने यह भी बताया कि नि:शुल्क 1950 नंबर पर फोन कर चुनाव संबंधी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। वोटर मतदाता पहचान पत्र के अलावा, आधार कार्ड, पैन कार्ड, मनरेगा जाब कार्ड, फोटो लगी हुई बैंक या डाक घर की पास बुक या पेंशन दस्तावेज समेत 11 दस्तावेज दिखाकर मतदान कर सकते हैं। 80 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाताओं, कोविड-19 से प्रभावित और दिव्यांग मतदाताओं के लिए डाक मत पत्रों की सुविधा उपलब्ध है।

द्रमुक ने माकपा को दी छह सीटें

राज्य में मुख्य विपक्षी दल द्रमुक ने आगामी विधानसभा चुनावों के लिए माकपा के साथ सीट बंटवारे का समझौता कर लिया है। इसके तहत वाम दल को छह सीटें दी गई हैं। द्रमुक ने तीन स्थानीय दलों के साथ भी समझौता किया है जिसमें तीनों को एक-एक सीट दी गई है, लेकिन वे द्रमुक के चुनाव चिन्ह पर ही लड़ेंगी। द्रमुक इससे पहले कांग्रेस, एमडीएमके, वीसीके, भाकपा, आइयूएमएल और एमएमके साथ समझौता कर चुकी है। वहीं, लोकसभा सदस्य असदुद्दीन ओवैसी की एआइएमआइएम ने टीटीवी दिनाकरन की एएमएमके साथ गठबंधन किया है जिसके तहत ओवैसी की पार्टी प्रदेश में तीन सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

अन्नाद्रमुक ने की परिवार की महिला प्रमुखों को 1,500 रुपये देने की घोषणा

अन्नाद्रमुक ने परिवार की महिला प्रमुखों को प्रतिमाह 1,500 रुपये देने की घोषणा की है। एक ही दिन पहले विपक्षी दल द्रमुक ने एक हजार रुपये प्रतिमाह देने का चुनावी वादा किया था। हालांकि अन्नाद्रमुक का कहना है कि उसकी घोषणा का द्रमुक के एलान से कोई लेना-देना नहीं है। मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने इसके अलावा प्रत्येक परिवार को हर साल छह एलपीजी सिलेंडर भी मुफ्त देने का वादा किया, हालांकि उन्होंने इसके लिए मानक नहीं बताए। उन्होंने बताया कि छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी का विस्तृत घोषणा पत्र जल्द ही जारी किया जाएगा।