साइबर हमलों को लेकर अमेरिका का कड़ा रूख, रूस पर प्रतिबंध लगाने की हो रही तैयारी

वाशिंगटन। अमेरिका का जो बाइडन प्रशासन रूस पर प्रतिबंध लगाने की तैयारी कर रहा है। अमेरिका अपने यहां सरकारी संस्थानों पर साइबर हमलों के मामलों में गंभीर है। इसके साथ ही रूस में विरोधी नेता एलेक्सी नवलनी को जहर देने और उसके बाद गिरफ्तारी से उत्पन्न घटनाक्रम को लेकर कड़ा रूख अपनाए है।

अमेरिका में सुरक्षा में सेंध के मामलों के कारण नौ सरकारी विभाग और एक दर्जन से ज्यादा प्राइवेट कंपनियां अभी भी दिक्कत में हैं। प्रशासन से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि नवलनी के मामले में प्रतिबंध लगाने के लिए अमेरिका यूरोपीय यूनियन का भी सहयोग लेगा।

रूस पर प्रतिबंधों के संबंध में यूरोपीय यूनियन के उच्च प्रतिनिधि जोसेप बोरैल ने कहा कि अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन ने रूस के खिलाफ प्रतिबंध के बारे में यूरोपियन यूनियन के विदेश मंत्रियों के सम्मेलन में भाग लेते हुए पूरी जानकारी ली है। उन्होंने इस मामले में बैठक को संबोधित भी किया।

इससे पहले रूस के खिलाफ प्रतिबंधों के लिए अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलीवान ने भी संकेत दिया था। उन्होंने कहा था कि साइबर हमलों के जिम्मेदार को जल्द ही जवाब मिलेगा। हम अब से महीनों नहीं, सप्ताह का ही इंतजार करेंगे। उल्लेखनीय है कि रूस की कुछ कंपनियां निरंतर साइबर हमलों के लिए कुख्यात हैं।

Whats App