Logo
ब्रेकिंग
मॉबली*चिंग के खिलाफ भाकपा-माले ने निकाला विरोध मार्च,किया प्रदर्शन छावनी को किसान सब्जी विक्रेताओं को अस्थाई शिफ्ट करवाना पड़ा भारी,हूआ विरोध व गाली- गलौज सूक्ष्म से मध्यम उद्योगों का विकास हीं देश के विकास का उन्नत मार्ग है बाल गोपाल के नए प्रतिष्ठान का रामगढ़ सुभाषचौक गुरुद्वारा के सामने हुआ शुभारंभ I पोड़ा गेट पर गो*लीबारी में दो गिर*फ्तार, पि*स्टल बरामद Ajsu ने सब्जी विक्रेताओं से ठेकेदार द्वारा मासूल वसूले जाने का किया विरोध l सेनेटरी एवं मोटर आइटम्स के शोरूम दीपक एजेंसी का हूआ शुभारंभ घर का खिड़की तोड़ लाखों रुपए के जेवरात कि चोरी l Ajsu ने किया चोरों के गिरफ्तारी की मांग I 21 जुलाई को रामगढ़ में होगा वैश्य समाज के नवनिर्वाचित सांसद और जनप्रतिनिधियों का अभिनंदन l उपायुक्त ने कि नगर एवं छावनी परिषद द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा।

कर्नाटक से मुंबई लाया गया गैंगस्टर रवि पुजारी, मुंबई सेशंस कोर्ट में होगी पेशी

मुंबई।  2016 के गज़ाली होटल फायरिंग (2016 Gajali Restaurant Firing) मामले के आरोपी गैंगस्टर रवि पुजारी (Gangster Ravi Pujari) को आज ( मंगलवार)  मुंबई सेशंस कोर्ट में पेश किया जाएगा। रवि पुजारी को मंगलवार सुबह ही करीब 6 बजकर 10 मिनट पर मुंबई पुलिस बेंगलुरु से लेकर आई है। लॉकअप में ले जाने से पूर्व उसका मेडिकल चेकअप करवाया गया। बता दें कि कर्नाटक हाइकोर्ट के निर्देश के बाद मुंबई पुलिस को रवि पुजारी की कस्‍टडी दी गई है। मुंबई पुलिस (Mumbai Police) इसे सड़क मार्ग से लेकर आई है।

गैंगस्टर रवि पुजारी, जिसके खिलाफ मुंबई में लगभग 80 मामले दर्ज हैं, उन्हें मंगलवार सुबह ही मुंबई लाया गया है। पिछले हफ्ते, बेंगलुरु की एक अदालत ने एक साल की लंबी लड़ाई के बाद मुंबई पुलिस को पुजारी की हिरासत दी थी। संयुक्त आयुक्त (अपराध शाखा), महाराष्ट्र के मिलिंद भरम्बे ने बताया, “हम एक साल से पुजारी की हिरासत पाने की कोशिश कर रहे थे और आखिरकार 2016 की गज़ाली होटल फायरिंग मामले में सफलता मिली।”

59 वर्षीय गैंगस्टर रवि पुजारी फरवरी 2020 में कर्नाटक पुलिस की हिरासत में था। उस पर एक दर्जन से अधिक हत्याओं का आरोप लगाया गया है, वह अचल संपत्ति, फिल्म हस्तियों और व्यवसायियों को धमकी और उनसे जबरन वसूली करता है। अकेले कर्नाटक में उनके खिलाफ लगभग 100 मामले दर्ज हैं।

पुजारी 1994 से फरार था। पुलिस का कहना है कि वह सेनेगल से पहले मुंबई से नेपाल, बैंकॉक, युगांडा और बुर्किना फासो में था। छोटा पुजारी का नाम छोटा राजन के नाम पर एंटनी फर्नांडीस रखा गया था और बाद में उसने इसे बदलकर टोनी फर्नांडीस और फिर रॉकी फर्नांडीस कर दिया। वह कथित तौर पर मुंबई जाने से पहले कर्नाटक में कई अपराधों में शामिल था।