महाराष्ट्र में बेकाबू कोरोना, मंत्री जयंत पाटिल भी पॉजिटिव…उद्धव ठाकरे ने बुलाई इमरजेंसी बैठक

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस पिछले कुछ दिनों से बेकाबू हो रहा है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्या 20 लाख के करीब पहुंच गई है। वहीं राज्य में अब तक कोरोना से 51,631 लोगों की मौत हो चुकी है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में 40 लोगों की कोरोना से मौत हुई है।

कोरोना की गंभीरता को देखते हुए ठाकरे ने यह बैठक बुलाई है। महाराष्ट्र के ठाणे में कोरोना वायरस के 369 नए मामले सामने आने के बाद जिले में संक्रमण के मामले बढ़कर 2,58,694 हो गए। एक अधिकारी ने बताया कि बुधवार को वायरस से छह और लोगों की मौत के बाद जिले में मृतकों की संख्या बढ़कर 6,214 हो गई। जिले में कोविड-19 से मृत्यु दर 2.40 प्रतिशत है।

कैबिनेट मंत्री जयंत पाटिल कोरोना पॉजिटिव
महाराष्ट्र के जल संसाधन मंत्री और राकांपा के प्रदेश प्रमुख जयंत पाटिल भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं। जयंत पटेल ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। मंत्री ने ट्विटर पर बताया कि उनका स्वास्थ्य सही है और वह उचित चिकित्सकीय सलाह ले रहे हैं। ‘राष्ट्रवादी परिवार संवाद यात्रा’ के तहत इस महीने की शुरुआत में राज्य के विभिन्न हिस्सों का दौरा करने वाले पाटिल ने उनके संपर्क में आए लोगों से सतर्क रहने और खुद को क्वारंटाइन में जाने को कहा है। उन्होंने ट्वीट किया है, ‘‘मैं कोरोना वायरस से संक्रमित हुआ हूं। मेरा स्वास्थ्य ठीक है। मैं उचित मेडिकल सलाह ले रहा हूं और जल्दी ठीक होने की आशा है। मैं वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से अपना काम करता रहूंगा।”

इस महीने की शुरुआत में राज्य के मंत्रियों अनिल देशमुख, सतेज पाटिल और राजेन्द्र सिंगणे के भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। देशमुख को नागपुर के अस्पताल में इलाज के बाद 15 फरवरी को वहां से छुट्टी मिल गई है। पिछले साल उपमुख्यमंत्री अजीत पवार सहित दर्जनों मंत्री संक्रमित हुए थे।

Whats App