Logo
ब्रेकिंग
मॉबली*चिंग के खिलाफ भाकपा-माले ने निकाला विरोध मार्च,किया प्रदर्शन छावनी को किसान सब्जी विक्रेताओं को अस्थाई शिफ्ट करवाना पड़ा भारी,हूआ विरोध व गाली- गलौज सूक्ष्म से मध्यम उद्योगों का विकास हीं देश के विकास का उन्नत मार्ग है बाल गोपाल के नए प्रतिष्ठान का रामगढ़ सुभाषचौक गुरुद्वारा के सामने हुआ शुभारंभ I पोड़ा गेट पर गो*लीबारी में दो गिर*फ्तार, पि*स्टल बरामद Ajsu ने सब्जी विक्रेताओं से ठेकेदार द्वारा मासूल वसूले जाने का किया विरोध l सेनेटरी एवं मोटर आइटम्स के शोरूम दीपक एजेंसी का हूआ शुभारंभ घर का खिड़की तोड़ लाखों रुपए के जेवरात कि चोरी l Ajsu ने किया चोरों के गिरफ्तारी की मांग I 21 जुलाई को रामगढ़ में होगा वैश्य समाज के नवनिर्वाचित सांसद और जनप्रतिनिधियों का अभिनंदन l उपायुक्त ने कि नगर एवं छावनी परिषद द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा।

पुलवामा हमले पर राहुल का सवाल, कहा- जवानों को मरने के लिए छोड़ शूटिंग में व्यस्त थे PM मोदी

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को हुए आतंकी हमले को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कई गंभीर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने सवाल पूछा कि हमले से पहले जब खुफिया जानकारी मिली थी तो आखिर एक्शन क्यों नहीं लिया गया।

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि खुफिया विभाग की तरफ से पहले ही दे दिए गए इनपुट को नजरअंदाज करते हुए 14 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री एक फिल्म की शूटिंग में व्यस्त रहे और हमारे देश के जवानों को पुलवामा में मरने के लिए छोड़ दिया। खुफिया विभाग के जिन इनपुट्स पर कार्रवाई करनी थी, आखिर उन्हें नजरअंदाज क्यों किया गया? कार्रवाई योग्य खुफिया जानकारी की अनदेखी क्यों की गई?

कृषि व्यापार को लेकर राहुल का मोदी पर हमला
इससे पहले राहुल गांधी ने केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया था कि वह देश की चालीस प्रतिशत जनता के कृषि व्यापार को अपने दो मित्रों के हवाले करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इन कानूनों के जरिए देश की रीढ़ को तोड़ा जा रहा है और प्रधानमंत्री मोदी ने कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे लोगों को अंदोलनजीवी कहकर उनका अपमान किया है।  उन्होंने कहा, ये कृषि क्षेत्र हिंदुस्तान की जनता को रोजगार देता है। इसके बिना हिंदुस्तान रोजगार पैदा नहीं कर पाएगा। जो आपका है, उसे प्रधानमंत्री मोदी दो लोगों को दे रहे हैं। युवाओं का भविष्य उनसे छीना जा रहा है।