Logo
ब्रेकिंग
DISNEY LAND MELA का रामगढ़ फुटबॉल मैदान में हुआ शुभारंभ विस्थापितों की 60% की भागीदारी सुनिश्चित नहीं हुई, तो होगा CCl का चक्का जाम Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा*

विवादित निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी अपहरण के मामले में भगोड़ा घोषित, कुर्क होगी संपत्ति

लखनऊ। विवादों में रहने वाले महराजगंज जिले के नौतनवां से निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी एक बार फिर से चर्चा में हैं। अपहरण के एक मामले में कोर्ट ने अमन मणि त्रिपाठी को फरार घोषित करने के साथ ही वारंट भी जारी किया है।

पत्नी सारा की हत्या के आरोप में सीबीआइ की जांच झेल रही अमन मणि को कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने तथा पुलिस से उलझने के कारण करीब छह महीना पहले उत्तराखंड में गिरफ्तार किया गया था। अब वह फिर नये विवाद में हैं। लखनऊ में कवियत्री मधुमिता शुक्ला की हत्या के मामले में पत्नी सहित आजीवन कारावास की सजा झेल रही पूर्व मंत्री अमर मणि त्रिपाठी के विधायक पुत्र अमनमणि भी उनकी राह पर हैं।

अपहरण के एक मामले में कई वारंट के बाद भी पेश न होने वाले निर्दलीय विधायक अमन मणि को एमपी/एमएलए कोर्ट ने भगोड़ा घोषित किया है। विशेष न्यायाधीश पीके राय ने भी मामले में अमन मणि की संपत्ति को कुर्क करने का निर्देश दिया है। इस मामले में अगली सुनवाई चार मार्च को होगी।

निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी के खिलाफ फिरौती के लिए गोरखपुर के एक व्यापारी के अपहरण का मामला दर्ज है। केस लखनऊ के गौतमपल्ली थाना में दर्ज है। आरोप है अमन मणि त्रिपाठी ने अपने कुछ साथियों के साथ गोरखपुर के व्यापारी ऋषि पाण्डेय का लखनऊ से अपहरण कर लिया था। इस दौरान व्यापारी के साथ रास्ते में मारपीट की गई। अमन मणि पर आरोप है कि उन्होंने व्यापारी को रंगदारी नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दी थी। अमनमणि और उसके साथियों के खिलाफ लखनऊ के गौतमपल्ली पुलिस स्टेशन में छह अगस्त 2014 को मामला दर्ज किया गया था।

व्यापारी के अपहरण, मारपीट और जान से मारने की धमकी देने के मामले में लखनऊ की पुलिस ने अमन मणि त्रिपाठी के खिलाफ 28 जुलाई 2017 को चार्जशीट दाखिल की थी। इसके बाद इस मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट की तारीखों पर अमनमणि की तरफ से बीमारी का हवाला देकर लगातार हाजिरी माफी की अर्जी लगाई जा रही थी। जिस पर कोर्ट ने कार्रवाई करते हुए अमन मणि को भगोड़ा घोषित कर गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है।

अमन मणि त्रिपाठी पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के पुत्र हैं। अमरमणि त्रिपाठी लखनऊ में 2003 में कवयित्री मधुमिता शुक्ला की हत्या के आरोप में गोरखपुर जेल में पत्नी के साथ उम्रकैद की सजा काट रहे हैं।