Logo
ब्रेकिंग
मॉबली*चिंग के खिलाफ भाकपा-माले ने निकाला विरोध मार्च,किया प्रदर्शन छावनी को किसान सब्जी विक्रेताओं को अस्थाई शिफ्ट करवाना पड़ा भारी,हूआ विरोध व गाली- गलौज सूक्ष्म से मध्यम उद्योगों का विकास हीं देश के विकास का उन्नत मार्ग है बाल गोपाल के नए प्रतिष्ठान का रामगढ़ सुभाषचौक गुरुद्वारा के सामने हुआ शुभारंभ I पोड़ा गेट पर गो*लीबारी में दो गिर*फ्तार, पि*स्टल बरामद Ajsu ने सब्जी विक्रेताओं से ठेकेदार द्वारा मासूल वसूले जाने का किया विरोध l सेनेटरी एवं मोटर आइटम्स के शोरूम दीपक एजेंसी का हूआ शुभारंभ घर का खिड़की तोड़ लाखों रुपए के जेवरात कि चोरी l Ajsu ने किया चोरों के गिरफ्तारी की मांग I 21 जुलाई को रामगढ़ में होगा वैश्य समाज के नवनिर्वाचित सांसद और जनप्रतिनिधियों का अभिनंदन l उपायुक्त ने कि नगर एवं छावनी परिषद द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा।

वंदे भारत में 15 फरवरी से हो रहा बदलाव, दिल्‍ली से वाराणसी जाने वालों के लिए जरूरी खबर

नई दिल्‍ली। भारत में बनी सेमी हाई-स्‍पीड ट्रेन वंदे भारत (Vande Bharat Train) में रेलवे (Indian Railway) 15 फरवरी से एक बदलाव करने जा रहा है। पीयूष गोयल ने ट्वीट कर यह अहम जानकारी दी है। उन्‍होंने ट्वीट कर बताया कि नई दिल्‍ली से वाराणसी जाने वाली वंदे भारत एक्‍सप्रेस 15 फरवरी से 31 मार्च तक तेजस एक्‍सप्रेस के रुप में चलाया जाएगा। इससे नई दिल्‍ली से उत्‍तर प्रदेश जाने वाले हजारों यात्रियों को आरामदायक सफर का आनंद और इसके साथ ही उनका सफर काफी सुविधाजनक भी होगा।

वंदे भारत कब चली थी पहली बार

बता दें कि भारत में बनी सेमी हाई-स्‍पीड ट्रेन को पीएम मोदी ने एक नई परिवहन की अगली पीढ़ी के रुप में पेश किया गया था। यह पहली बार 2019 में पटरी पर उतरी थी जिसके बाद मीडिया में इसकी काफी चर्चा हुई थी। इसकी नई डिजाइन और आकर्षक सुविधा ने सभी का ध्‍यान अपनी ओर खींचा था।

क्‍यों हो रहा है बदलाव

बता दें कि भारत की प्रीमियम ट्रेनों में शुमार वंदे भारत के मेंटेनेंस के लिए भेजा जा रहा है। इस कारण इसे 15 फरवरी से 31 मार्च तक नहीं चलाया जाएगा। इस जगह पर यात्रियों को एक और प्रीमियम ट्रेन में शुमार तेजस की सुविधा दी जाएगी। हालांकि रेलवे ने यह साफ कर दिया है कि नई दिल्ली से वाराणसी चलने वाले यात्रियों को इसके लिए कोई अतिरिक्‍त किराया नहीं देना होगा। मेंटेनेंस के लिए जाने से करीब 45 दिनों तक वंदे भारत की सुविधा नहीं मिल पाएगी।

कहां से कहां के बीच चलती है तेजस

भारतीय रेलवे अभी तेजस एक्सप्रेस सेवाओं के तहत चार जोड़ी ट्रेनों का संचालन कर रही है, जिसकी शुरुआत तीन साल पहले की गई थी। इनमें से दो, छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस-करमाली तेजस एक्सप्रेस और चेन्नई एग्मोर-मदुरै जंक्शन तेजस एक्सप्रेस भारतीय रेलवे द्वारा चलाई जा रही है।