तेलंगाना: कांग्रेस ने की TRS विधायक धर्म रेड्डी के खिलाफ कार्रवाई की मांग, पिछड़े वर्ग का किया अपमान

हैदराबाद। कांग्रेस नेता वी हनुमंत राव ने मांग की है कि राज्य सरकार तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के विधायक धर्म रेड्डी पर समाज के कमजोर वर्गों के खिलाफ उनके ‘अपमानजनक’ बयानों के लिए कार्रवाई करे। समाचार एजेंसी एएनआइ से बात करते हुए, पूर्व सांसद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता वी हनुमंत राव ने कहा कि भारत को आजादी मिले लगभग 72 साल हो गए हैं और इतने सालों के बाद भी तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेता और विधायक धर्म रेड्डी ने समाज के कमजोर वर्गों का यह कहकर अपमान किया है कि वे पढ़ना-लिखना नहीं जानते और ऐसे समुदायों को आरक्षण प्रदान करने से सरकार की प्रतिष्ठा प्रभावित हो रही है।

कांग्रेस नेता वी हनुमंत राव ने आगे कहा कि विधायक ने न केवल हमारा बल्कि डॉ. बीआर अंबेडकर का भी अपमान किया है। उन्होंने इस तरह के बयान देकर समाज के कमजोर वर्ग के लोगों के स्वाभिमान को ठेस पहुंचाई है। राव ने कहा कि तेलंगाना सरकार को धर्म रेड्डी के खिलाफ उनके बयानों के लिए कार्रवाई करनी चाहिए। यदि ऐसा नहीं हुआ, तो हम तेलंगाना विधानसभा के स्पीकर को एक ज्ञापन सौंपेंगे और टीआरएस विधायक के खिलाफ कार्रवाई होने तक विरोध प्रदर्शन करेंगे।

धर्म रेड्डी ने सोमवार को अपने बयानों के लिए एक माफी जारी की, जिसमें पिछड़ी जातियों के अधिकारियों की आलोचना की गई थी। एक सार्वजनिक बैठक में, रेड्डी ने दावा किया कि उन्होंने आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (ईडब्ल्यूएस) के लोगों के लिए आरक्षण लागू करने के लिए बयान दिए। उन्होंने कहा, ‘मैं जाति-आधारित यूनियनों और दूसरों से खुले दिल से सोचने का अनुरोध करता हूं। मैंने केवल ईडब्ल्यूएस को बढ़ावा देने की बात की थी। मैंने किसी भी  जाति के लिए आरक्षण में कटौती के लिए नहीं कहा। मैंने गरीब लोगों (ईडब्ल्यूएस श्रेणी) को अतिरिक्त 10 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए कहा। अगर किसी को लगता है कि मेरा बयान गलत था और अगर मेरे बयानों से उन्हें दुख पहुंचा है, तो मैं अपने शब्दों को वापस लूंगा और अपने बयान के लिए माफी मांगता हूं। मेरे द्वारा दिए गए बयानों के लिए मुझे खेद है।’

Whats App