Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

ड्यूटी टाइम में सफर करने वाले यात्रियों को बड़ी राहत, 10 स्टेशनों पर नहीं रुकेगी मेट्रो

नोएडा। नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन (एनएमआरसी) ने अब लोगों के समय की बचत के लिए फास्ट मेट्रो चलाने का निर्णय लिया है। व्यस्त समय में एक्वालाइन मेट्रो 10 स्टेशनों पर नहीं रुकेगी। इससे पहले स्टेशन से अंतिम स्टेशन तक की दूरी तय करने में नौ मिनट कम समय लगेगा। यह ट्रेन सोमवार से शुक्रवार तक चलेंगी। शनिवार व रविवार को ट्रेनों का संचालन सामान्य दिनों की तरह होगा।

एनएमआरसी के अधिकारियों ने बताया कि सुबह 8 से 11 व शाम को पांच से आठ बजे सोमवार से शुक्रवार तक फास्ट ट्रेन चलेंगी। यह ट्रेन एक्वालाइन के 21 स्टेशनों में से 10 स्टेशनों पर नहीं रुकेगी। इनमें सेक्टर-50, 101, 81, 83, 143, 144, 145, 146, 147 व 148 मेट्रो स्टेशन हैं, जहां मेट्रो नहीं रुकेंगी।

फास्ट मेट्रो से लोगों का कम से कम नौ मिनट का समय बचेगा

एनएमआरसी की प्रबंध निदेशक रितु माहेश्वरी ने बताया कि औसतन सेक्टर-51 से नोएडा डिपो तक सफर करने में 45 मिनट 43 सेकंड का समय लगता है। फास्ट ट्रेन के जरिये इस सफर को 36 मिनट 40 सेकेंड में पूरा किया जा सकेगा। फास्ट मेट्रो से लोगों का कम से कम नौ मिनट का समय बचेगा।

इसी तरह परी चौक तक का सफर तय करने में 28 मिनट 30 सेकेंड का समय लगेगा। इसे अब तक 37 मिनट में पूरा किया जाता था। उन्होंने बताया कि मुसाफिरों को फास्ट ट्रेन की जानकारी मिले। इसके लिए स्टेशनों व ट्रेनों के अंदर इसकी जानकारी दी जाएगी। साथ ही एनाउंसमेंट के जरिये लोगों को फास्ट मेट्रो के बारे में बताया जाएगा।

हेलीपोर्ट की डीपीआर प्रस्तुत, अगले साल सितंबर में परियोजना होगी पूरी

वहीं, दिल्ली के बाद नोएडा में प्रस्तावित हेलीपोर्ट के लिए सोमवार को प्राधिकरण बोर्ड रूम में विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) पर चर्चा की गई। इसमें आर्थिक सर्वे पर भी चर्चा की गई। बैठक में 15 कंपनियों ने हिस्सा लिया। कंपनियां डीपीआर पर शुक्रवार तक अपने-अपने सुझाव प्राधिकरण को देंगी। अधिकारियों के मुताबिक राइट्स कंपनी ने डीपीआर प्राधिकरण को सौंप दी है। फाइल को प्रदेश सरकार के पास अनुमोदन के लिए भेजा जाएगा। अनुमोदन के बाद होने वाली बोर्ड बैठक में निर्माण कंपनी के टेंडर आमंत्रित किए जाएंगे।