Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

मुंबई में निजी वाहन में यात्रा कर रहे लोगों को मिली मास्‍क से आजादी, BMC का निर्देश

मुंबई। कोरोना संक्रमण के कम हो रहे मामलों को देखते हुए बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने रविवार को नया निर्देश जारी किया हैं। नए निर्देश के अनुसार अब निजी वाहनों के अंदर मास्‍क न पहनने वाले लोगों पर जुर्माना नहीं लगाया जाएगा। हालांकि, सार्वजनिक परिवहन जैसे टैक्सी या रिक्शा में यात्रा करने वालों को बिना मास्क पकड़े जाने पर पहले की तरह ही दंडित किया जाएगा। गौरतलब है कि बीएमसी ने महानगर में कोरोना मामले  बढ़ने के बाद 18 अप्रैल 2020 से मास्क पहनना अनिवार्य किया था।

ऐसा न करने पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाने का निर्देश दिया गया था हालांकि बाद में जुर्माना राशि को घटाकर 200 रुपये कर दिया गया था। बीएमसी ने इसके साथ-साथ सामुदायिक सेवा का दंड भी लागू किया था। इसके अंतर्गत अगर कोई आदमी बिना मास्क पहने सड़क पर नजर आता है तो उससे जुर्माना वसूलने के साथ सड़क पर झाड़ू लगवाना या कोविड केयर सेंटर में अपनी सेवाएं देना जैसे भी काम करने पड़ सकते हैं।

 महाराष्ट्र में कोरोनावायरस

 महाराष्ट्र का COVID-19 के केस अब  बढ़कर 19,87,678 तक पहुंच चुके हैं , शनिवार को  2,910 नए मामले दर्ज किये गए। कोरोना संक्रमण के कारण मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 50,388 तक पहुंच चुका है । शनिवार को कुल 3,039 रोगियों को छुट्टी दे दी गई थी, अब तक कुल 18,84,127 लोग इस महामारी के बाद स्‍वस्‍थ  हो चुके हैं। 51,965 मरीज अभी सक्रिय हैं जिनका कोविड अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है।