Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

24 घंटे में मासूम को खोजने का दिलाया था भरोसा, 113 घंटे बाद कुएं में शव मिलने से ग्रामीणों में आक्रोश; गांव पुलिस छावनी में तब्दील

रांची। पिठोरिया थाना क्षेत्र के हेठकोनकी से सात साल के अपहृत बच्चे का शव घर के पास ही कुंआ में मिला है। सुबह में ग्रामीणों ने बच्चे का शव कुंआ में देखा। सूचना पर परिवार के साथ बड़ी संख्या में ग्रामीण वहां जुटे हुए हैं। पुलिस को भी सूचना दे दी गई है। शव को कुंआ से निकालने का प्रयास किया जा रहा है। पिछले छह दिनों से हेठकोनकी निवासी शहजहां अंसारी के सात साल का पुत्र शाहनवाज अंसारी लापता था। परिजनों ने अपहरण की आशंका जतायी थी। बच्चे की बरामदगी के लिए पुलिस ने एक जांच टीम बनायी थी। बच्चे को सकुशल वापसी का भरोसा दिया था लेकिन पुलिस बच्चे को वापस नहीं ला सकी। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है

हत्या का आरोप लगा ग्रामीण आक्रोशित हैं। भारी संख्या में जुटी भीड़। डॉग स्क्वायड गांव के अलग-अलग कोने में कर रही भ्रमण। भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गई है रांची के ग्रामीण एसपी से नौशाद आलम डीएसपी मुख्यालय नीरज कुमार डीएसपी सीपीआर विकास आनंद लागुरी, सहित पांच से ज्यादा इंस्पेक्टर सार्जेंट मेजर सहित कई अधिकारी मौके पर मौजूद।

ग्रामीणों ने दिया था 24 घंटे का अल्टीमेटम

ग्रामीणों ने पुलिस को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया था। इस अल्टीमेटम के दौरान बरामद नहीं किए जाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी गई थी। हालांकि, पुलिस ने आश्वासन दिया था कि बच्चे काे 24 घंटे के अंदर खोज लिया जाएगा। शनिवार को लोगों का आक्रोश बढ़ता देख डीएसपी मुख्यालय वन नीरज कुमार, कांके थाना प्रभारी विनय कुमार सिंह, इंस्पेक्टर असीत कुमार मोदी, पिठोरिया थानेदार मिशिल सोरेन सहित अन्य पहुंचे थे।

बोरिंग के विवाद में बच्चे के अपहरण की आशंका

बच्चे के पिता ने बोरिंग के विवाद में बच्चे के अपहरण की आशंका जताई थी। कहा है कि वे अपने घर के पास ही बोरिंग करवा रहे थे। इस दौरान मंगरा उरांव, गिरू उरांच, चंपा उरांव, महादेव उरांव व रंजीत उरांव मारूती वैन से पहुंचे थे। इन लोगों ने जबरन बोरिंग का काम बंद करवा दिया था। उसी मारूती वैन में बच्चे को ले जाते हुए सीसीटीवी फुटेज में देखा गया है। पुलिस ने इस संदेह के आधार पर पांचों को हिरासत में ले लिया है।