Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

शोक में हार्दिक पांड्या का परिवार, पिता हिमांशु पांड्या का निधन, क्रुणाल ने छोड़ा टूर्नामेंट

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के पिता का शनिवार को निधन हो गया। हिमांशु पांड्या के निधन की खबर मिलने के बाद से ही पांड्या परिवार तकलीफ में है। जानकारी के मुताबिक दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनके पिता की मृत्यु हुई। हार्दिक के बड़े भाई इस वक्त बड़ौदी टीम की कप्तानी करते हुए सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेल रहे हैं।

पिता के निधन की बुरी खबर मिलने के बाद से ही क्रुणाल काफी दुखी हैं। जानकारी मिलने के बाद क्रुणाल ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में बड़ौदा की कप्तानी छोड़ दी है। खबर मिलने के बाद तुरंत वह बायो बबल से बाहर निकल गए। अब इस टूर्नामेंट में वह टीम की तरफ से खेलने नहीं उतर पाएंगे। अब तक उन्होंने टीम की तरफ से चार मैच खेला है। जिसमें चार विकेट हासिल किए हैं जबकि पहले मैच में उत्तराखंड के खिलाफ खेलते हुए क्रुणाल ने 76 रन की तेज पारी भी खेली थी।

बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन के कार्यकारी अधिकारी शिशिर हटांगड़ी ने कहा, हां क्रुणाल पांड्या बायो बबल से बाहर निकल गए हैं। यह ये निजी तौर पर दुखी करने वाली घटना है। बडौदा क्रिकेट एसोसिएशन इस दुख की घड़ी में हार्दिक और क्रुणाल के साथ संवेदना रखता है।

हार्दिक पांड्या सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में नहीं खेल रहे हैं वह फरवरी में इंग्लैंड के साथ होने वाली सीरीज की तैयारी में जुटे हैं। ऑस्ट्रेलिया में खेले गए हालिया टी20 और वनडे सीरीज में हार्दिक ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। चोट कि वजह से वह गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं इसी वजह से उनको टेस्ट टीम में जगह नहीं दी गई थी।