लखनऊ में रोहतास निदेशकों के घर कुर्की का नोटिस, अस्पताल संचालक ने गोरखपुर में दर्ज कराई थी FIR

लखनऊ। रोहतास कंपनी के निदेशकों के घर के बाहर गोरखपुर पुलिस ने कुर्की की नोटिस चस्पा की है। आरोपितों के खिलाफ डेढ़ साल पहले गोरखपुर के शाहपुर थाने में अस्पताल संचालक डॉ अवनीश राणा और उनकी पत्नी डॉ सोना घोष ने धोखाधड़ी की एफआइआर दर्ज कराई थी। मदनमोहन मालवीय मार्ग स्थित रोहतास कंपनी के निदेशकों पंकज रस्तोगी, पीयूष रस्तोगी और परेश रस्तोगी के घर पर गोरखपुर पुलिस ने डुगडुगी पिटवाई। इस दौरान आरोपितों को हाजिर होने के लिए कहा गया।

गोरखपुर पुलिस लंबे समय से आरोपितों की तलाश कर रही है। डा. सोना घोष ने तीन सितंबर 2019 को शाहपुर थाने में हजरतगंज निवासी रोहतास प्रोजेक्‍ट लिमिटेड के एमडी परेश और उनके दो भाई पंकज व पीयूष के खिलाफ कूटरचित दस्‍तावेज तैयार कर जालसाजी करने का केस दर्ज कराया था। डाक्‍टर का आरोप है कि 2012 में इन लोगों ने लखनऊ में जमीन देने का झांसा देकर उनसे 26 लाख रुपये लिए थे, लेकिन जमीन नहीं दिया। रुपये मांगने पर आनाकानी करने लगे

मुकदमा दर्ज कर शाहपुर पुलिस ने जांच शुरू की तो आरोप सही साबित हुआ। कई बार नोटिस देने के बाद भी आरोपित बयान दर्ज कराने थाने नहीं आए। इसके बाद विवेचक मदन मोहन मालवीय मार्ग पर आरोपितों के आवास पर पहुंचे तो सभी फरार मिले। विवेचक के आवेदन पर कोर्ट ने कुर्की की कार्रवाई शुरू करने का आदेश दिया था। गोरखपुर के प्रभारी निरीक्षक शाहपुर संतोष कुमार सिंह ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर कुर्की का नोटिस चस्‍पा कर दिया गया है। निर्धारित समय के भीतर हाजिर न होने पर बिल्‍डर भाइयों की संपत्ति कुर्क कराई जाएगी।

Whats App